• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • The Father Had Said I Will Give A Feast To The Chicken, Do Not Kill The Deer; Son Did Not Agree

गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड में गिरफ्तार दो आरोपियों का शॉर्ट एनकाउंटर:पुलिस ने पैरों में मारी गोली; भागने की कर रहे थे कोशिश

गुना से रोहित श्रीवास्तव और आशीष रघुवंशी12 दिन पहले

गुना के आरोन में 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में गिरफ्तार 2 आरोपी जिया खान और शानू का पुलिस ने शॉर्ट एनकाउंटर किया है। पुलिस ने इनके पैर में गोली मारी है। पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियों ने शिकार किए हिरण और हथियार राघौगढ़ के जंगल में छिपाना बताया। पुलिस की टीम इनकी बरामदगी के लिए दोनों आरोपियों को लेकर जा रही थी। गाड़ी रास्ते में ग्राम भोढनी की घाटी पर पहुंचने पर आरोपी शानू खान ने अचानक से पुलिस वाहन की स्टेरिंग मोड़ दी, जिससे गाड़ी रोड से नीचे उतरकर पलटते-पलटते बच गई, तभी दूसरे आरोपी जिया खान ने थाना प्रभारी बजरंगढ़ उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल की शासकीय पिस्‍टल छीनने की कोशिश की। इस झूमाझटकी में उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल और वाहन चालक आरक्षक दीपक ओझा घायल हो गए।

इस संघर्ष के बाद दोनों आरोपियों ने पुलिस जीप से निकलकर भागने का प्रयास किया तो उन्हें रोकने के लिए पुलिस बल ने चेतावनी दी, पहले हवाई फायर किया लेकिन वह नहीं रुके तो उन्हें काबू में करने के लिए उनके पैरों में गोली मारकर शॉर्ट एनकाउंटर किया गया। गोली लगने से घायल दोनों आरोपियों को इलाज के लिए आरोन के अस्पताल लाया गया। साथ ही घायल उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल और चालक दीपक ओझा का भी इलाज चल रहा है। इधर प्राथमिक उपचार के बाद दोनों आरोपियों को आरोन कोर्ट में पेश किया गया। यहां उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में अस्पताल भेजने का आदेश दिया गया। कोर्ट ने दोनों आरोपियों को अस्पताल में भर्ती करने के निर्देश दिए।

इधर इस घटना को लेकर पुलिस के दो बड़े अधिकारियों के विरोधाभासी बयान सामने आए है। दोनों आरोपियों के शॉर्ट एनकाउंटर को लेकर एसपी राजीव मिश्रा का कहना है कि दोनों आरोपियों को उनके छिपाए हथियार और शिकार किए हिरण की बरामदगी के लिए ले जाया जा रहा था। इस दौरान ये घटना हुई। जबकि IG डी श्रीनिवास वर्मा का कहना है कि आरोपियों को कोर्ट पेशी के लिए ले जाया जा रहा था। इस दौरान शॉर्ट एनकाउंटर की घटना हुई है। इधर पुलिस ने आरोपियों के गांव के दो कुओं में बंदूक खोजने के लिए 10 घंटे का सर्चिंग ऑपरेशन चलाया। लेकिन पुलिस को कुछ नहीं मिला। अंधेरा होने के चलते सर्च ऑपरेशन रोक दिया गया।

इधर, पुलिस एनकाउंटर में मारे गए आरोपी शहजाद का शव रविवार दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद दफनाया गया। शहजाद की कब्र छोटे भाई नौशाद की कब्र के बगल से खोदी गई।

इस गाड़ी से दोनों को ले जा रहे थे। आरोपियों ने भागने की कोशिश की, तो पुलिस ने शॉर्ट एनकाउंटर कर दिया।
इस गाड़ी से दोनों को ले जा रहे थे। आरोपियों ने भागने की कोशिश की, तो पुलिस ने शॉर्ट एनकाउंटर कर दिया।

इससे पहले गुना में शुक्रवार तड़के 5 से ज्यादा शिकारियों ने 3 पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मुठभेड़ में एक शिकारी नौशाद खान भी मारा गया था। पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद पुलिस एक्शन में आई और शनिवार देर रात तक जवाबी कार्रवाई में 3 और आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया। हालांकि, आधिकारिक पुष्टि अभी सिर्फ नौशाद के भाई शहजाद की ही हुई है। शनिवार देर शाम हुए शहजाद के एनकाउंटर में धीरेंद्र गुर्जर नाम का पुलिसकर्मी घायल हो गया। मध्यप्रदेश बीजेपी के संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने एक ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा- हिसाब बराबर। इसके बाद भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता ने भी ट्वीट किया कि चौथा भी गया!। पुलिस पार्टी पर हमले के आरोपी विक्की और गोलू को रिकॉर्ड में पुलिस अभी फरार ही बता रही है।

एनकाउंटर में घायल आरोपी शानू
एनकाउंटर में घायल आरोपी शानू
एनकाउंटर में घायल आरोपी जिया खान
एनकाउंटर में घायल आरोपी जिया खान

घटना गुना से 57 किमी दूर शहरोक-मौनबाड़ा के बीच जंगल की है। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने तीनों पुलिसकर्मियों को शहीद का दर्जा दिया है। परिजन को एक-एक करोड़ की आर्थिक सहायता सहित एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। जवाबी एक्शन के लिए पुलिस को फ्री हैंड दिया गया है। प्रशासन ने 5 आरोपियों के घर को बुलडोजर से ढहा दिया।

शिकार पर जाने को लेकर पिता से हुई थी आरोपियों की बहस
नौशाद की भतीजी की शनिवार को शादी थी और बारातियों को काले हिरण का मांस परोसा जाना था। उन्होंने 4 काले हिरण, 1 मादा हिरण और 1 मोर का शिकार किया था। पिता ने आरोपी बेटों नौशाद और शहजाद से कहा था-निकाह में मैं मुर्गे की दावत दे दूंगा, हिरण मत मारना। बेटे नहीं माने और शिकार के लिए जंगल चले गए। इस बात को लेकर पिता और आरोपी बेटों में बहस भी हुई थी।

पढ़िए लाइव घटनाक्रम क्या चल रहा ...
राघोगढ़ पुलिस को सूचना मिली कि पुलिस से छीनी गयी इंसास बिदौरिया गांव में ही एक कुएं में पड़ी हुई है। एडिशनल SP सहित SDOP और राघोगढ़ टीम मौके पर पहुंची। कुएं का पानी खाली किया जा रहा है। बिजली जाने पर जनरेटर मंगाकर मोटर चलाई गई। SDERF (स्टेट डिजास्टर इमरजेंसी रिस्पॉन्स फोर्स) को बुलाया गया है। जवान कुएं में उतरकर राइफल तलाश रहे हैं।

खबर को आगे पढ़ने से पहले इस पोल पर अपनी राय दे सकते हैंं...

पकड़े गए आरोपियों ने इसी कुएं में लूटी गई राइफल फेंके जाने की जानकारी दी है।
पकड़े गए आरोपियों ने इसी कुएं में लूटी गई राइफल फेंके जाने की जानकारी दी है।

400 से ज्यादा मेहमानों की होनी थी दावत
बताया जाता है कि मुठभेड़ में मारा गया नौशाद बददिमाग था। वो शनिवार को विदौरिया गांव में भतीजी की शादी में आने वाले बारातियों का स्वागत काले हिरण के गोश्त की दावत से करना चाहता था। इसमें निशानेबाज भाई शहजाद व मांस कटिंग में माहिर बबलू समेत गुल्ला-विक्की भी उसका साथ दे रहे थे। हालांकि नौशाद के पिता निसार को जब पता चला, तो उन्होंने विरोध भी किया। निसार ने कहा- पोती की शादी में हिरण की दावत नहीं होगी, लेकिन दोनों नहीं माने।

उन्होंने तय कर लिया था कि 400 से ज्यादा मेहमानों की दावत के लिए पांच काले हिरण व एक मोर काफी होगा। एक काले हिरण का वजन 25 से 35 किलो तक होता है। एक काले हिरण का मुंह, सींग और खाल निकालने के बाद उसमें से 20 किलो मांस निकलता है। एक व्यक्ति 250 ग्राम मांस खाता है। इस हिसाब से 400 मेहमानों के लिए पांच काले हिरण मारे थे।

घर गिराने से पहले आरोपियों के घर का सामान बाहर निकलवा गया। दोनों के यहां शादियां भी नहीं हो सकीं।
घर गिराने से पहले आरोपियों के घर का सामान बाहर निकलवा गया। दोनों के यहां शादियां भी नहीं हो सकीं।

गांव में एक बारात आना थी, दूसरी जाना थी
राघौगढ़ के विदौरिया गांव में 30 परिवार रहते हैं। इनमें से दो परिवारों में दो शादियां थीं। एक शिकारी नौशाद की भतीजी की बारात बलोनिया के पास से आनी थी। दूसरी मजीद खान के बेटे की बारात मूढरा गांव जानी थी, लेकिन वारदात के बाद शनिवार सुबह से ही गांव में सन्नाटा है। कई लोगों के घरों में ताले लगे हैं। आरोपी और परिवार के सदस्य फरार हैं। गांव में पुलिस तैनात है। दोनों शादियों में पहले से जो मेहमान आए थे, उनमें से कई को पुलिस ने पूछताछ के लिए उठा लिया। शनिवार को भी जो मेहमान दूर-दराज से पहुंचे, उन्हें पुलिस ले गई। दोनों ही शादियां नहीं हो पाईं। पुलिस ने आठ बाइक भी जब्त की हैं।

भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री हितानंद शर्मा ने रात में ट्वीट किया था कि हिसाब बराबर।
भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री हितानंद शर्मा ने रात में ट्वीट किया था कि हिसाब बराबर।
रात में ही भाजपा के राज्य प्रवक्ता हितेश बाजपेयी ने ट्वीट किया था कि चौथा भी गया।
रात में ही भाजपा के राज्य प्रवक्ता हितेश बाजपेयी ने ट्वीट किया था कि चौथा भी गया।

एनकाउंटर में पहले मारा गया नौशाद
शनिवार तड़के पुलिस पर फायरिंग के दौरान ही नौशाद मेवाती मारा गया था। इसी दौरान मुख्य आरोपी शहजाद ने पुलिस टीम पर 8-9 फायर किए थे। बताया जा रहा है कि उसने लायसेंसी बंदूक से गोलियां चलाई थी। रात में शहजाद का भी एनकाउंटर कर दिया गया। 18वीं बटालियन समेत 10 थानों का पुलिस बल कार्रवाई में लगा है। पुलिस को घटनास्थल पर 12 बोर के 8 चले हुए कारतूत के खोखे मिले हैं। वहीं, एक जिंदा कारतूस भी मिला है। यह आरोपियों द्वारा चलाए गए थे। सब इंस्पेक्टर राजकुमार जाटव ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से 10 गोलियां चलाई थीं, जब उनके पास गोलियां नहीं बचीं, तो शिकारियों ने उन पर धावा बोल दिया।

IG अनिल शर्मा हटाए, नए IG डी श्रीनिवास ने संभाला मोर्चा

ग्वालियर रेंज के नए IG डी श्रीनिवास वर्मा ने मोर्चा संभाल लिया है। इससे पहले घटनास्थल पर देरी से पहुंचने पर ग्वालियर के IG अनिल शर्मा को हटा दिया गया था। मध्यप्रदेश सरकार ने तीनों मृतक पुलिसकर्मियों के परिवार को 1-1 करोड़ का मुआवजा, साथ ही एक-एक परिजन को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया। मामले में कार्रवाई के लिए पुलिस को फ्री हैंड दिया गया। इसके बाद शनिवार दोपहर प्रशासन ने आरोपियों के घर को बुलडोजर से ढहा दिया।

शनिवार को ताबड़तोड़ आरोपियों के घर भी ढहा दिए गए।
शनिवार को ताबड़तोड़ आरोपियों के घर भी ढहा दिए गए।

यह है मामला
शनिवार तड़के करीब 3 बजे गुना के आरोन में कुछ शिकारियों ने पांच काले हिरणों व मोर का शिकार किया था। सूचना पर पहुंच पुलिस ने घेराबंदी की, तो आरोपियों ने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। हमले में एसआई राजकुमार जाटव, आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम की मौके पर मौत हो गई थी, जबकि दो लोग घायल हो गए थे। मौके से पांच हिरणों के शव भी जब्त किए थे।

खबरें और भी हैं...