बाल विवाह रुकवाया:पिपरोदाहाय गांव में दल ने पहुंचकर रुकवाया नाबालिग का विवाह

गुना4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महिला बाल विकास व पुलिस की टीम ने ग्राम पिपरोदाहाय ग्राम पंचायत रेझाई थाना म्याना में एक बाल विवाह रुकवाया। यहां एक 18 साल से कम उम्र की बालिका का विवाह किया जा रहा था। इसकी सूचना मिलने पर कलेक्टर द्वारा गठित दल मौके पर पहुंचा। परियोजना अधिकारी दीपा शर्मा, पर्यवेक्षक उमा मीना, थाना म्याना द्वारा मौके पर जाकर जांच की गई तथा बालिका के माता- पिता को समझाइश दी गई की 18 वर्ष की उम्र से पहले बालिका का विवाह बाल अपराध है।

जिसमें बाल विवाह कराने वाले पक्ष को 02 वर्ष की सजा एवं एक लाख रुपए दंड का प्रावधान है। उन्‍होंने माता पिता को समझाइश देते हुए पढ़ाने की बात कही। इस दौरान मौके पर पंचनामा भी बनाया गया। बालिका की मां रूपवती बाई, राजकुमार केवट एवं दाताद सिंह केवट नाबालिग का विवाह न करने की समझाईश देते हुए इसका उल्लंघन करने पर नियमानुसार कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

खबरें और भी हैं...