पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:आकलित खपत के नाम पर बिजली कंपनी कर रही अवैध वसूली, लोगों ने किया प्रदर्शन

आलमपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आलमपुर में 85 फीसदी उपभोक्तओं को दिए जा रहे आकलित खपत के बिजली बिल
  • एवरेज बिल की शिकायत करने पर मीटर बदलने का आश्वासन देकर लौटा देते हैं
  • उपभोक्ता लगा रहे बिजली घर के चक्कर

प्रदेश शासन के स्पष्ट निर्देश हैं कि किसी भी बिजली उपभोक्ता को आकलित बिल नहीं दिए जाए, इसके बावजूद आलमपुर नगर के करीब 85 प्रतिशत उपभोक्ताओं को बिजली कंपनी एवरेज बिल दे रही है। बिना किसी जांच-पड़ताल के अधिकारी अपनी मर्जी के बिल लोगों पर थोप रहे हैं।

जिन घरों में वास्तविक खपत बेहद कम है, उनके भी 300 से 350 यूनिट तक के आकलित खपत के बिजली बिल पहुंचाए जा रहे हैं। वहीं बिजली कंपनी द्वारा थमाए गए एवरेज बिल को कम कराने के लिए उपभोक्ताओं को विभागीय अधिकारियों के ऑफिस के चक्कर लगाना पड़ रहे हैं। उसके बाद भी बिलों की राशि को कम नहीं किया जा रहा है। सोमवार को बिजली कंपनी द्वारा हर महीने थमाए जा रहे आकलित बिजली बिल को लेकर कंपनी के खिलाफ उपभोक्ताओं ने विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि हर माह तीन से चार हजार रुपए के बिल उपभोक्ताओं को थमाए जा रहे हैं। पिछले चार माह से उपभोक्ता परेशान हैं। ज्यादा राशि का बिल आने का प्राथमिक जिम्मेदार मीटर रीडर होता है। खामियाजा उपभोक्ता को भुगतना पड़ता है।

उपभोक्ता इसलिए होते हैं परेशान
कंपनी के खिलाफ विरोध करने के दौरान उपभोक्ता सागर राठौर, सुनील गोस्वामी, कृष्णमुरारी आदि का कहना है कि आलमपुर नगर में 1800 के करीब बिजली उपभोक्ता हैं। वहीं आकलित खपत के इस पूरे खेल में नुकसान सिर्फ उपभोक्ता का है।

असल में रीडिंग मन मुताबिक कम और ज्यादा लिखकर बिल तैयार किए जा रहे हैं। जबकि बाद में जब भी मीटर चेक करने की शिकायत पर बिजली कंपनी भारी भरकम राशि का बिल उपभोक्ताओं को देने से नहीं चूकती। खासतौर पर व्यवसायिक कनेक्शन धारकों को यह परेशानी झेलनी पड़ती है।
कर्जदार बन रहे बिजली उपभोक्ता
औसत और रीडिंग से अधिक बिल आने की स्थिति में उपभोक्ता बिजली कंपनी के कर्जदार बन रहे हैं। उपभोक्ता आकाश कुमार सुनील गोस्वामी के यहां जनवरी माह से एवरेज बिल आ रहा है, जिसे सुधरवाने के लिए वे बिजली कंपनी के दफ्तर पहुंचते हैं तो उन्हें मीटर बदलने का आश्वासन दे दिया जाता है।

एवरेज बिल अधिक होने के कारण वे पिछले चार माह से बिल नहीं भर पा रहे हैं। इस कारण वे बिजली कंपनी के कर्जदार बन गए हैं। ये स्थिति सैकड़ों उपभोक्ताओं की है। शिकायत के बाद भी उपभोक्ताओं की सुनवाई नहीं हो रही।
शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है

  • हर माह एवरेज बिल थमा दिया जाता है। इस संबंध में कई बार बिजली कंपनी के अधिकारियों से भी शिकायत की जा चुकी है, लेकिन इसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। - आकाश कुमार, उपभोक्ता

बिल सही कराने कार्यालय के चला रहे हैं चक्कर

  • बिल सुधरवाने के लिए हर माह बिजली कंपनी कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते हैं। अगर मीटर रीडिंग लेकर ठीक से बिल दिया जाए तो यह समस्या ही दूर हो जाएगी। - बृजभूषण मिश्रा, उपभोक्ता

आगामी माह से आकलित बिल नहीं भेजे जाएंगे

  • बिजली कंपनी द्वारा वैसे किसी भी उपभोक्ता को एवरेज बिल नहीं दिया जा रहा है। अगर किसी के पास आकलित बिल आया है तो उसको सही किया जा रहा है। साथ ही उनके यहां पर भी आगामी माह में सही बिल आएगा। - सुनील त्रिपाठी, जेई, बिजली कंपनी

आकलित बिजली बिल की जांच कराई जाएगी

  • बिजली कंपनी के एसई दिनेश सुखीजा ने बताया कि आकलित खपत के बिल देना गलत है, अगर आलमपुर क्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं को आकलित बिल दिए जा रहे हैं, तो इसकी जांच कराई जाएगी। इस संबंध में विभागीय कर्मचारियों को निर्देश देंगे। ताकि लोगों को परेशानी न हो।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें