पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सेवा:जिम्मेदार भूले तो किन्नर ने आगे आकर सड़क पर डलवाई मिट्‌टी

अंबाह14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अंबाह में जग्गा राेड पर मिट्टी का भराव करते स्थानीय लाेग। - Dainik Bhaskar
अंबाह में जग्गा राेड पर मिट्टी का भराव करते स्थानीय लाेग।
  • राबिया किन्नर ने कहा- जलभराव के कारण आमजन को हो रही परेशानी, इसलिए डलवा रहे मिट‌्टी

जग्गा रोड पर 500 मीटर एरिया में जलभराव की समस्या गंभीर है। इस मार्ग से 50 से 60 गांव का आवागमन जुड़ा हुआ है। ऐसे में पैसे वाले लोग तो वाहनों में बैठकर निकल जाते हैं, लेकिन गरीब लोग घुटनों तक पानी होकर गुजर रहे हैं। कई बार ई-रिक्शा पलटने पर उसमें बैठे लोगों का सामान बिखर जाता है। बुजुर्ग लाठियों के सहारे पानी से होकर गुजर रहे हैं। गरीबों की यह दुर्दशा मुझसे देखी नहीं गई और मैने स्वयं के स्तर पर जलभराव की समस्या को दूर करने का मन बनाया। जिसके तहत आज मैने स्वयं के खर्च पर सड़क पर 10 ट्रॉली मिट्‌टी डलवाई है।

यह बात शनिवार को जग्गा रोड पर रहने वाली राविया किन्नर ने दैनिक भास्कर को बताई। राविया ने बताया कि जग्गा रोड पर 500 मीटर एरिया में घरों से निकलने वाला गंदा पानी भरा है। कारण यह है कि यहां ड्रेनेज सिस्टम पूरी तरह फेल है तथा घरों का पानी निकालने के कोई इंतजाम नहीं है। इस समस्या से निजात पाने स्थानीय लोग दो साल से एसडीएम, नगर पालिका सीएमओ सहित विधायक व सांसद से मांग कर रहे हैं, लेकिन जनहित के मुद्दों पर जनप्रतिनिधि से लेकर अफसरों ने कोई रुचि नहीं ली। ऐसे में नगर के अलावा आसपास के 60 गांव के लोग आवागमन की समस्या से जूझ रहे हैं।

लोगों का दर्द मुझसे देखा नहीं गया: राविया ने बताया कि जग्गा रोड पर जिस एरिया में जलभराव हो रहा है वहां बाइक सवारों का गिरना, ई-रिक्शा पलटना आम बात है। सबसे ज्यादा बुजुर्ग व गरीब महिलाओं की होती है। क्योंकि उन्हें कमर तक भरे पानी से होकर गुजरना पड़ता है। इस इलाके का कोई भी व्यक्ति जब बीमार होता है तो उसे अस्पताल पहुंचाना चुनौती से कम नहीं होता। लोगों का दर्द नगर के मर्दों को सहन हो रहा था, लेकिन मुझ किन्नर को लोगों की पीड़ा नहीं देखी गई और स्वयं के स्तर पर जलभराव की समस्या का निराकरण कराने का बीड़ा उठाया।

एसडीएम बोले- राबिया का कदम सराहनीय, सीएमओ से बोलकर मुरम भी डलवाएंगे
इस संबंध में राजीव समाधिया, एसडीएम अंबाह का कहना है कि जग्गा रोड पर जलभराव की समस्या इसलिए गंभीर है क्योंकि वहां घरों का पानी निकालने के लिए ड्रेनेज सिस्टम नहीं है। स्थानीय प्रशासन के स्तर पर समस्या को दूर करने एक वर्ष में तीन से चार बार प्रबंध कराए जाते हैं, लेकिन ड्रेनेज सिस्टम के अभाव में बार-बार समस्या जटिल हो जाती है। राबिया द्वारा स्वयं के स्तर किया जा प्रयास सराहनीय है। मैं सीएमओ को बोलकर वहां मुरम व गिट्‌टी डलवाने का प्रबंध कर रहा हूं।

खबरें और भी हैं...