पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस स्टेशन में हंगामा:शिकायत लेकर आई महिला ने हवलदार का कॉलर पकड़ा, मां-बेटे पर मुकदमा

अंबाह20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रधान आरक्षक रामप्रकाश मुदगल की शिकायत पर पुलिस ने किया केस दर्ज

मकान खाली कराने की शिकायत लेकर थाने पहुंची महिला निर्मला तोमर ने पुलिस स्टेशन में आधा घंटा तक न सिर्फ उत्पात मचाया बल्कि समझाइश देने पर ऑन ड्यूटी प्रधान आरक्षक आरपी मुदगल का कॉलर पकड़ लिया। इस मामले में पुलिस ने आरोपी महिला व उसके बेटे शिवा तोमर के खिलाफ शासकीय कार्य में हस्तक्षेप का मुकदमा दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक, कुथियाना की रहने वाली महिला निर्मला पत्नी नरेन्द्र सिंह तोमर मंगलवार को थाने आई और पुलिस से बोली कि उसके बहनोई राजू भदौरिया ने उसका मकान धोखाधड़ी करके अपने नाम करा लिया और उसमें रह भी रहा है। उसके मकान को खाली कराओ। थाने में ऑन ड्यूटी प्रधान आरक्षक आरपी मुदगल ने महिला से कहा कि आपका प्रकरण दीवानी से जुड़ा है इसलिए आप कोर्ट में कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं। महिला बोली कि राजू भदौरिया को अभी थाने बुलाया जाए।

हवलदार ने कहा कि किसी व्यक्ति को थाना प्रभारी के निर्देश पर थाने बुलाया जाता है। इतनी बात सुनते ही महिला भड़क गई और उसने प्रधान आरक्षक का कॉलर पकड़कर कहा कि देखते हैं कैसे नहीं बुलाओगे राजू भदौरिया को। मेरा पति फौज में उससे तुमको मरवा दूंगी। इस एपीसोड के दौरान निर्मला का बेटा शिवा थाने में खड़ा होकर मोबाइल से वीडियाे बनाता रहा। महिला निर्मला ने मोबाइल फोन का स्पीकर ऑन कर फौजी पति नरेन्द्र तोमर से भी पुलिस को गालियां दिलवाईं। महिला ने थाने में मौजूद एसआई टीडी शुक्ला काे भी गालियां दीं और कहा कि वह तो आरोपी से मिला हुआ है। थाने में महिला के हंगामा को लेकर पुलिस ने मां-बेटे के खिलाफ शासकीय काम में बाधा उत्पन्न करने का मुकदमा दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...