पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

किसानों पर संकट:सामान्य से 33% कम बारिश, गर्मी बढ़ने से धान के खेत सूखे, बाजरा में इल्लियां, 20% नुकसान

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिंड में कम बारिश होने और तेज धूप पड़ने से जल्दी पक रही बाजरा की फसल।
  • सालभर का कोटा 668.3 मिमी लेकिन बारिश हुई सिर्फ 449.8 मिमी, पारा 33 डिग्री

इस साल मानसून भले ही समय से आ गया हो लेकिन बारिश कमजोर होने से खरीफ की फसल का उत्पादन प्रभावित हो रहा है। इसका असर अब रबी सीजन की फसल पर भी दिखाई देगा। सितंबर महीने में न के बराबर बारिश होने से किसान पलेवा नहीं कर पा रहे हैं, जिससे सरसों की बोवनी में देर होने की आशंका है।

इस साल जिले में खरीफ सीजन में 1 लाख 53 हजार हेक्टेयर में बोवनी हुई है। सबसे ज्यादा 75 हजार 344 हेक्टेयर में बाजरा बोया गया और 18 हजार हेक्टेयर में धान की पौध रोपी गई है लेकिन कम बारिश होने से दोनों ही फसलों पर संकट आ गया है। हालात यह हैं कि जिले की सामान्य औसत बारिश यानी सालभर का कोटा 668.3 मिलीमीटर है लेकिन अब तक मात्र 449.8 मिलीमीटर बारिश हुई है यानि सामान्य औसत से 33 प्रतिशत कम। इसके अलावा तेज धूप के कारण तापमान लगातार बढ़ रहा है। वर्तमान में दिन का तापमान 32 से 33 डिग्री सेल्सियस के बीच होने से बाजरा की फसल में इल्ली रोग लग रहा है। वहीं कई जगह बाजरा की फसल सूख रही है।

बिजली न मिलने से खड़ा हुआ सिंचाई का संकट
एक ओर जिले में बारिश न होने से फसलों को पानी नहीं मिल पा रहा है। वहीं दूसरी ओर जिन लोगों के पास स्वयं के ट्यूबवेल भी है, वे बिजली के अभाव में फसलों को पानी नहीं दे पा रहे हैं, जिससे खरीफ की फसलों का नुकसान पहुंच रहा है। इस संबंध में किसान बिजली कंपनी के अफसरों से शिकायत भी दर्ज करा चुके हैं। लेकिन सुनवाई न होने से उनकी समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है।

रबी की फसल भी होगी लेट
कृषि वैज्ञानिकों की मानें तो पानी न बरसने और तेज धूप की वजह से बाजरा सहित अन्य फसलों में 15 से 20% तक उत्पादन प्रभावित होगा। वहीं पलेवा के लिए पानी न मिलने की वजह से रबी सीजन की बोवनी लेट होगी। कारण यह है कि जिले में सरसों की बोनी अक्टूबर महीने से शुरू हो जाती है। इसके लिए सितंबर में खेत तैयार करने पड़ते हैं।

सिंचाई के साधन नहीं तो उत्पादन गिरेगा
खरीफ फसल को पानी की आवश्यकता है। जहां निजी ट्यूबवेल और सिंचाई के लिए कोई अन्य साधन नहीं है, वहां उत्पादन प्रभावित होगा। बारिश न होने से रबी सीजन की फसल पर भी असर पड़ेगा।
एसपी शर्मा, उपसंचालक, कृषि भिंड

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें