पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Bhind
  • 35 Years Of Politics, Now I Don't Have To Fight Elections, Now Life Is Dedicated For Public Welfare: Former Minister

नदी बचाओ यात्रा:35 साल राजनीति की है, अब मुझे चुनाव नहीं लड़ना, अब जीवन जनकल्याण के लिए समर्पित: पूर्व मंत्री

भिंडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नदी बचाओ यात्रा के चाैथाे दिन मंगलवार काे इंदिरा गांधी चाैराहा से यात्रा इटावा राेड की ओर बढ़ी। यात्रा में शामिल हाेने के लिए जल पुरुष के नाम से विख्यात राजेंद्र सिंह आए। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार मनुष्य के शरीर में फेंफड़े शुद्ध ऑक्सीजन देने का कार्य करते हैं, उसी प्रकार से रेत नदी के लिए फेंफड़े का कार्य करती है। वह पानी को सोखती है, जिससे नदी का जलस्तर बढ़ता है। सरकार को चाहिए जीवनदायिनी नदियों से खनन बंद करने के लिए वह एक कानून बनाए। ताकि नदी का पानी नदी और नदी का रेत नदी में रहे। वहीं पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने कहा कि भिंड जिले की जमीन भी पंजाब, उत्तर प्रदेश की तरह उपजाऊ है। लेकिन पानी के अभाव में किसान उतनी फसल नहीं कर पाते हैं, जितनी वह मेहनत करते हैं। अंत में उन्होंने यह भी साफ किया कि यह एक धार्मिक और सामाजिक यात्रा है। मैंने 35 साल राजनीति की है अब मुझे चुनाव नहीं लड़ना है, यह जीवन जनकल्याण के लिए समर्पित कर दूंगा। इस अवसर पर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव, केके मिश्रा, विनोद डागा, पूर्व विधायक हेमंत कटारे, सहित तमाम नेता मौजूद रहे। विदित है कि जिले से गुजरी सिंध नदी में रेत का उत्खनन व्यापक पैमाने पर हो रहा है, जिससे कई स्थानों पर नदी सूखने लगी है। ऐसे में पूर्व मंत्री डॉ. सिंह नदी बचाओ यात्रा प्रारंभ की है। चौथे दिन शहर के इंदिरा गांधी चौराहा से यात्रा इटावा रोड की ओर बढ़ी। पहला पड़ाव डिडी गांव के पास कांग्रेस नेता रामप्रकाश यादव के होटल पर रहा। यहां जलपुरुष राजेंद्र सिंह ने मीडिया से चर्चा की, जिसमें उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इस समय केंद्र और राज्य में जो सरकार है, उसके एजेंडा में गंगा और गाय सर्वोपरी है। लेकिन यह सिर्फ दिखावे के लिए है।

चार दिन में 82 किलोमीटर पैदल चले लोग
नदी बचाओ आंदोलन के तहत पूर्व मंत्री के नेतृत्व में सैकड़ों लोग चार दिन में 82 किलोमीटर का सफर तय कर चुके हैं। मंगलवार को यात्रा इंदिरा गांधी चौराहा से प्रारंभ होकर बरही तक पहुंची। फूप में सुरपुरा ब्लॉक अध्यक्ष राजा सिंह भदौरिया ने स्वागत किया। वहीं चौधरी मैरिज गार्डन में सुनील चौधरी, मनोज दैपुरिया, मनीष दैपुरिया ने स्वागत किया। इसके आगे राजवीर सिंह भदौरिया ने भी तमाम लोगों के साथ यात्रा का स्वागत किया। इस दौरान मनोज दैपुरिया, केशव देशाई, आशीष गुर्जर, राजकुमार देशलहरा, राहुल भदौरिया, अनिरुद्ध सिंह, उदय प्रताप सिंह, नरेश सिंह, नाथूराम चुरारिया, सुरेश राजपूत, अनिल भारद्वाज, विनोद पंडित मौजूद रहे।
आने वाली पीढ़ी भटके नहीं, इसलिए आंदोलन
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पूर्व प्रदेश प्रभारी मोहन प्रकाश ने इस सत्याग्रह के लिए डॉ. गोविंद सिंह की सराहना करते हुए कहा कि नदी बचाओ जल बचाओ सत्याग्रह को उन्होंने जन आंदोलन में बदला, जिससे आगे आने वाली पीढ़ियों को पानी के लिए भटकना न पड़े। इस मौके पर कांग्रेस पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस अरुण यादव ने कहा कि नदी बचाओ जल बचाओ यात्रा सराहनीय है और जन मानुष को भी इस यात्रा में अपनी भागीदारी निभाना चाहिए, जिससे नदियों को पुनर्जीवित किया जा सके। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष जयश्रीराम बघेल, वरिष्ठ नेता राधेश्याम शर्मा, खिजर मोहम्मद कुर्रेशी, धर्मेंद्र भदौरिया पिंकी, देवेंद्र भदौरिया, गजेंद्र सिंह भदौरिया शामिल रहे।

आज रौन पहुंचेगी यात्रा

नौ सितंबर को पूर्व मंत्री और लहार विधायक डॉ गोविंद सिंह के नेतृत्व में निकाली जा रही नदी बचाओ यात्रा ग्राम खेरा सिंध नदी से रौन पहुंचेगी और रात्रि विश्राम यहीं पर करेगी। वहीं इस यात्रा में प्रदेश सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, पीसी शर्मा, लाखन सिंह यादव, रामनिवास रावत शामिल रहेंगे। ये सभी हेलीकाप्टर से रौन पहुंचेंगे।

खुलासा.... कांग्रेस बना रही थी कानून

राजेंद्र सिंह ने बताया कि नदियों से खनन रोकने के लिए कांग्रेस सरकार प्रदेश में कानून बनाना चाह रही थी। कमलनाथ ने खुद उन्हें फोन लगाकर उनसे इसमें मदद करने के लिए कहा था। हमने देश के कुछ वैज्ञानिकों से एक ड्राफ्ट भी तैयार कराया। लेकिन तब तक सरकार चली गई। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ियों के भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए सरकार को चाहिए वह एक अच्छे पर्यावरण के लिए कानून बनाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें