पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कुआं में गिरने से किशोरी की मौत:कुएं में मिला किशोरी का शव डेढ़ साल से चल रही थी बीमार; शौच के लिए घर से निकली थी किशोरी

भिंड13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ऊमरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम विलाव में एक किशोरी की सूखे कुआं में गिरने से मौत हो गई। घटना मंगलवार की सुबह करीब 6 बजे की बताई जा रही है। पुलिस ने मृतका के शव को कुएं से बाहर निकलवाया।

दरअसल विलाव निवासी मंगला (16) पुत्र बृजेश उर्फ पप्पू प्रजापति मंगलवार की सुबह 6 बजे अपने घर से शौच के लिए निकली थी। करीब एक घंटे बाद भी जब वह वापस नहीं आई तो परिजन को चिंता हुई और उसकी आसपास तलाश की गई। तभी गांव में एक सूखे कुएं के पास उसकी चप्पलें और लौटा रखा हुआ मिला। वहीं जब लोगों ने कुआं में झांककर देखा तो उसमें वह पड़ी हुई थी। परिजन के मुताबिक मंगला पिछले करीब डेढ़ साल से बीमार चल रही थी। संभवतः उसने आत्महत्या की है। पुलिस ने शव का पीएम कराकर परिजन के सुपुर्द कर दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

युवक का घर के पास फांसी के फंदे पर झूलता मिला शव
भिंड। फूप कस्बे मरघट के पास एक युवक का शव पेड़ से फांसी के फंदे पर झूलता हुआ मिला। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। साथ ही मृतक के शव का पीएम कराकर परिजन के सुपुर्द कर दिया है। वहीं मर्ग कायम कर प्रकरण विवेचना में लिया है। बताया जा रहा है कि फूप के वार्ड क्रमांक 6 निवासी जितेंद्र (27) पुत्र मूलचंद्र बरेठा ग्वालियर रोड पर संचालित एक ढाबा पर खाना बनाने का कार्य करता था।

मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे मरघट के पास बौद्ध बिहार के पीछे बबूल के पेड़ से उसका शव फांसी के फंदे पर झूलता हुआ देखा गया। सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक के शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भिजवाया। साथ ही मर्ग कायम कर प्रकरण विवेचना में लिया है। जितेंद्र की छह साल पहले ही उसकी मधु से शादी हुई थी। उसके कोई बच्चा नहीं है। पुलिस जांच कर रही है कि उसने आत्म हत्या की है, या वह किसी साजिश का शिकार हुआ है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें