पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेखौफ शराब माफिया:आबकारी टीम ने जहां नष्ट की थी 7 हजार लीटर कच्ची शराब, 4 दिन बाद वहीं फिर होने लगा अवैध कारोबार

दबोह3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दबोह के बड़ागांव के हार में कंजर डेरे से कच्ची शराब खरीदता युवक। - Dainik Bhaskar
दबोह के बड़ागांव के हार में कंजर डेरे से कच्ची शराब खरीदता युवक।
  • एक बार फिर बड़ागांव (करधेन) अमाहा बंबा के पास फिर से बिकना शुरू हुई अवैध शराब
  • मुरैना में जहरीली शराब से 24 ने जान गंवाई, फिर भी हमारे यहां यह हाल

सात दिन पहले आबकारी विभाग की टीम ने अमाहा के कंजर डेरों पर छापा मारकर बड़ी मात्रा में अवैध शराब पकड़ी थी। इस शराब काे माैके पर ही नष्ट कर दिया था लेकिन इस कार्रवाई का शराब माफिया पर कोई असर नहीं पड़ा।

माफिया ने इसी जगह कार्रवाई के महज चार दिन बाद फिर अवैध शराब का कारोबार शुरू कर दिया है। बड़ागांव (करधेन) अमाहा बंबा के पास फिर अवैध कच्ची शराब बेची जा रही है। इससे पता चलता है कि शराब माफिया को आबकारी या पुलिस का कोई खौफ नहीं है।

बता दें कि 15 जनवरी शुक्रवार को आबकारी अमले ने पुलिस टीम के साथ मिलकर दबोह कस्बे से तीन किलोमीटर दूर अमाहा के कंजर डेरा पर छापा मारा था। जहां जेसीबी से खुदाई कराकर जमीन में गड़े शराब से भरे ड्रम निकलवाए थे। इस दौरान चार ड्रम खुदाई में फट गए जबकि चार ड्रम से 1500 लीटर शराब जब्त की थी। साथ 7 हजार लीटर लहान को भी नष्ट कराया गया था। हालांकि यहां आबकारी टीम को मौके से कोई आरोपी नहीं मिला था। इस कार्रवाई के बाद शराब माफिया ने फिर पहले की तरह कारोबार शुरू कर दिया।

जमीन में गाड़कर रखते हैं शराब:कच्ची शराब बनाकर बेचने के अवैध कारोबार में लगे लोग शराब को जमीन में गाड़कर रखते हैं। शराब के ड्रमों को खेतों सहित अन्य जगहों पर दूर-दूर गड्‌ढे बनाकर गाड़ देते हैं । जब कार्रवाई होती है तो पुलिस कुछ ही ड्रमों को नष्ट कर पाती है। दूसरी जगहों पर छिपाकर रखे ड्रमों से फिर कारोबार शुरू हो जाता है।

सस्ती के चलते कंजर व्हिस्की खरीदते हैं लोग
दबोह थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम बड़ागांव के हार में और अमाहा बंबा के पास कंजरों के डेरे हैं जहां अवैध शराब बनाने का कारोबार जोरों पर चलता है। स्थिति यह है कि शाम होते ही यहां शराब पीने वालों की भीड़ जुटना शुरू हो जाती है। सस्ती के चलते जहां लोग पीते हैं। वहीं कई लोग यहां से शराब लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी बेचते हैं। यह शराब कई बार पीने वालों की जान भी ले लेती है।

कार्रवाई से पहले खाली कर देते हैं घर
दबोह के कंजर डेरों में अवैध शराब बनाने वालों का मुखबिर तंत्र भी मजबूत है। स्थिति यह है कि जब भी पुलिस या आबकारी की टीम इन पर कार्रवाई करने का मन बनाती है, इसकी सूचना उन तक पहले पहुंच जाती है। इसके बाद वे घर खाली कर फरार हो जाते हैं। पिछले शुक्रवार को भी जब आबकारी की टीम ने अमाहा के कंजर डेरा में दबिश दी थी तब उन्हें वहां सिर्फ बच्चे मिले थे।

कंजर डेरों पर फिर से कार्रवाई करेंगे
^कच्ची शराब बनाकर बेचने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई जारी है। यदि दबोह के पास शराब बेची जा रही है तो हम फिर टीम के साथ उक्त स्थान पर कार्रवाई करेंगे। अवैध कारोबार करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।
नरेंद्र सिंह प्रजापति, आबकारी इंस्पेक्टर, लहार

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें