पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

डबरा:मेढ़ पर सो रहे युवक को मवेशियों ने कुचला, मौत

डबरा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
घटना के बाद गुस्साएं मृतक के परिजन और ग्रामीण ट्रैफिक जाम करते हुए, महिलाएं हाथों में लठ्‌ठ लेकर सड़क पर बैठ गईं थीं।
  • शव को रोड पर रख परिजनों ने किया ट्रैफिक जाम
  • छोले की दफाई नहर की पुलिया के पास घटी घटना, पुलिस ने दो लोगों पर दर्ज किया गैर इरादतन हत्या का केस
  • मृतक के परिजनों ने मवेशी भगाने वालों पर लगाया बाइक चढ़ाने का आरोप

शहर की छोले की दफाई नहर की पुलिया के पास सो रहे एक आदिवासी व्यक्ति के ऊपर से मवेशी निकल गए, जिससे घायल होने से उसकी मौत हो गई। घटना शनिवार की रात करीब 1 बजे की है। रविवार सुबह परिजनों ने युवक के शव को भितरवार रोड पर रखकर जाम लगा दिया। परिजनों का कहना था कि मवेशी की टक्कर के साथ ही मवेशी भगाने वालों की बाइक युवक के ऊपर से निकल गई थी। इसलिए उन पर मामला दर्ज कर मुआवजा दिलाया जाए। करीब ढाई घंटे तक जाम लगाने केे बाद नियमानुसार मुआवजा दिलाए जाने के आश्वासन के बाद परिजन शव का पीएम कराने पर तैयार हुए। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है।

ग्राम छोले की दफाई में रहने वाला दयाराम आदिवासी 45 शनिवार की शाम दफाई के पास ही खेतों की रखवाली के लिए गया हुआ था। वह रात में मेढ़ पर सो रहा था, तभी वहां काफी संख्या में मवेशी निकले और युवक में टक्कर मार दी, जिससे वह घायल हो गया। इस हादसे में उसकी मौत हो गई। इसके बाद रविवार सुबह काफी संख्या में आदिवासी दफाई की महिलाएं, पुरुष और परिजनों ने शव को शुगर मिल गेट पर आंबेडकर चौराहे के सामने रोड पर रख दिया ओर जाम लगा दिया। मृतक के भाई का कहना है कि दो लोगों ने मवेशियों को हांक कर ले जाते हुए सोते समय उनके भाई के ऊपर मवेशी चढ़ा दिए, साथ ही जिस बाइक से मवेशी हांकने वाले जा रहे थे उनकी बाइक भी उनके भाई ऊपर चढ़ गई थी। इसलिए उन लोगों पर मामला दर्ज करने के साथ परिजन मुआवजे में 4 लाख रुपए और सरकारी नौकरी की मांग कर रहे थे।

केस दर्ज होने के बाद भी परिजनों ने नहीं खोला जाम
जाम लगाने के कुछ देर में ही पुलिस ने परिजनों की मांग पर दो लोगों के खिलाफ मामला तो दर्ज कर लिया। पर परिजन मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। जाम करीब 9.30 बजे लगाया था। करीब ढाई घंटे तक जाम लगा रहा। एसडीओपी उमेश तोमर, तहसीलदार नवनीत शर्मा की समझाइश पर और नियमानुसार मुआवजा की बात पर परिजनों ने जाम खोला और मृतक के पीएम के लिए तैयार हुए। पुलिस ने इस मामले में बहादुर रावत, गजेंद्र रावत कंचनपुर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

पुलिसकर्मियों से हुई झड़प वाहन चालकों को डराया
जाम लगाने केे लिए महिलाएं हाथों में डंडे लेकर बैठी हुई थी। जब पुलिसकर्मी महिलाओं को समझाइश देने पहुंचे तो महिलाओं ने हंगामा कर दिया और पुलिसकर्मियों के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए डंडे दिखाने लगीं। इसके साथ ही वहां से कोई वाहन चालक निकलता हुआ दिखाई देने पर वे उसके पीछे डंडे लेकर मारने के लिए दौड़ती रहीं। करीब ढाई घंटे तक जाम लगा रहने के कारण वहां से वाहन चालक नहीं निकल सके और परेशान होते रहे।

कमलनाथ के आने से एक घंटे पहले खुला जाम
परिजनों ने अांबेडकर चौराहे पर जाम लगाया था। जिस जगह जाम लगा हुआ था वहां से कुछ ही दूरी पर कॉलेज में हैलीपेड बना हुआ था, जहां से कमलनाथ उतर उस रास्ते से उनका काफिला गुजरना था। कमलनाथ की सभा करीब 12 बजे के समय पर निर्धारित थी। जिसके चलते रास्ता खुलवाने के लिए पुलिस अधिकारियों नेे 11.30 बजे तत्परता दिखाई और सख्ती और समझाइश के बाद जाम खुलवा दिया। वहीं कमलनाथ के काफिला निकलने पर परिजनों ने उनके वाहन को रोककर मुआवजा और न्याय दिलाए जाने की गुहार लगाई।

मैं मौके पर ही था, आरोपियों ने बाइक से टक्कर मारी थी
कंचनपुर के बहादुर और गजेंद्र रावत ने मवेशी चढ़ा दिए और उनकी बाइक से भी टक्कर लगी। मैं मौके पर कुछ ही दूरी पर था, भाई के घायल होने पर में उसके पास गया था, लेकिन उसकी मौत हो गई। - रामसेवक आदिवासी, मृतक का भाई

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें