पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रशासन ने ग्रामाणों को जागरुक किया:वैक्सीन से बीमार होने की बात किस डॉक्टर ने बोली? मुझे नाम बताओ उसका: तहसीलदार

भितरवार13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वैक्सीनेशन के दौरान लोगों को भ्रमित कर रहे ग्रामीणों को तहसीलदार ने लताड़ा

वैक्सीन लगवाने से लोग बीमार होकर मर रहे हैं। वैक्सीनेशन के दौरान ऐसी बात कर लोगों को भ्रमित करने बाले ग्रामीणों की तहसीलदार श्यामू श्रीवास्तव ने जमकर क्लास ली। उन्होंने ग्रामीणों से पूछा कि वैक्सीन से बीमार होने की बात किस डॉक्टर ने बोली उसका नाम बताओ। वैक्सीनेशन को गति देने के लिए एवं लोगों में टीका को लेकर फैली भ्रांतियों को दूर करने के लिए रविवार को दो टीमों में गठित स्थानीय प्रशासनिक अमला विकासखंड के विभिन्न गांवों में पहुंचा। जहां उन्होंने चौपाल लगाकर ग्रामीणों को समझाइश दी। ग्राम बागवई, सांखनी, पवाया पहुंचे तहसीलदार श्यामू श्रीवास्तव ने वैक्सीनेशन को लेकर कुछ भ्रमित ग्रामीणों को आवश्यक जानकारी दी।

इस दौरान सांखनी गांव में एक व्यक्ति वैक्सीन से मरने की बात कहते हुए बोला कि वैक्सीन से खुद बीमार हो गया हूं, परिवार के लोगों को कैसे लगवा लूं। यह बात सुनकर तहसीलदार श्यामू श्रीवास्तव ने उक्त ग्रामीण से पूछा किस डॉक्टर ने बोला है कि वैक्सीन से बीमार हुए हो। उस डॉक्टर का पर्चा और नाम बताओ। तुमने किस डॉक्टर से इलाज कराया। बताओ वैक्सीन से बीमार हुए हो ऐसी बात कर लोगों को क्यों भ्रमित कर रहे हो। इसी प्रकार एसडीएम अश्वनी कुमार रावत, एसडीओपी अभिनव कुमार बारंगे, जनपद सीईओ अशोक शर्मा के नेतृत्व में गठित कर्मचारियों की टीम किठौंदा, रही, हरसी, रिछरीखुर्द, चिटोली, बेलगढा गांव में टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया।

खबरें और भी हैं...