सावित्री बाई फुले की 191वीं जयंती मनाई:सावित्री बाई फुले की 191वीं जयंती मनाई, बोले- नारी शिक्षा के लिए उठाए कदम

भांडेर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भांडेर के सरसई रोड स्थित सावित्री बाई फुले स्कूल में मनाई गई जयंती

देश की प्रथम महिला शिक्षिका सावित्री बाई फुले की गुरुवार को सरसई रोड स्थित माता सावित्री बाई फुले स्कूल में 191वीं जयंती मनाई। इस मौके पर उनकी तस्वीर पर पुष्प अर्पित करते हुए उन्हें नमन किया गया साथ ही छात्र-छात्राओं के उनके द्वारा नारी शिक्षा के लिए उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद डॉ. अभिलाख सिंह कुशवाह ने कहा कि आज हमारे देश में बेटियां आईएस, आईपीएस, डॉक्टर, इंजीनियर, वैज्ञानिक, सफल राजनेता, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति तक बन रहीं हैं इसका श्रेय सावित्री बाई फुले को ही जाता है।

एक वक्त ऐसा था जब महिलाओं को शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार नहीं था। सावित्री बाई देश की पहली प्रथम महिला शिक्षिका थीं, उन्होंने नारी शिक्षा की दिशा में सशक्त कदम उठाए हैं। उन्होंने नारी शिक्षा के लिए ही पूरे देश में स्कूल खोले। समाज का विरोध लेते हुए भी उन्होंने पहले खुद पढ़ाई की साथ ही अपने पति को भी शिक्षित किया।

इस मौके पर समाजसेवियों के द्वारा स्कूल में छात्र-छात्राओं को शिक्षण सामाग्री वितरित भी वितरित की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्कूल संचालक नरेंद्र कुशवाह ने की जबकि विशिष्ट अतिथि कालका प्रसाद निरंजन रहे। संचालन राजेंद्र कुशवाह और आभार डॉ. रामकुमार कुशवाह ने किया। इस मौके पर समाजसेवी रविकांत पटेल, गुलाब सविता, रमाकांत पटेल, राजेंद्र नामदेव, अरुणेश सक्सेना, विनोद कुशवाह, ग्याप्रसाद पाल सहित स्कूल का स्टाफ मौजूद रहा।

खबरें और भी हैं...