फर्जी मजदूरी दिखाकर अपने बैंक खाते में डाले रुपए:खेत तालाब का निर्माण मशीनों से कराया, ग्रामीणों ने एसपी और  कलेक्टर से की  शिकायत

सेंवढ़ा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मनरेगा के तहत होने वाले निर्माण कार्यों को पंचायत सचिव और सरपंच ने मिलीभगत से तालाब का निर्माण कार्य मशीनों से करा दिया और मजदूरों के फर्जी बिल लगाकर मजदूरी की राशि हड़प कर ली। इसकी शिकायत ग्राम पंचायत छिकाऊ के ग्रामीणों ने कलेक्टर और एसपी को दर्ज कराकर मामल में कार्रवाई किए जाने की मांग की है।

सामाजिक कार्यकर्ता रामलाल कुशवाह के साथ छिकाऊ निवासी वीरेंद्र सिंह, रामनरेश पटवा, राहुल पाल, दयाराम पाल, नरेश कुशवाह, सुरेंद्र कुशवाह, घनाराम कुशवाह के द्वारा कलेक्टर संजय कुमार और एसपी अमन सिंह राठौर को भेजी गई शिकायत में उल्लेखित किया गया है कि, पंचायत सरपंच और सचिव ने मिलकर ग्रामीणों के खाते खुलवाए।

इसमें अपना मोबाइल नंबर जोड़ दिया और सभी हितग्राहियों के एटीएम कार्ड भी अपने पास ही रख लिए। इसके बाद पंचायत ने खेत तालाब बनाने का काम मशीनों से कराया जबकि मजदूरों के फर्जी बिल लगाकर मजदूरी की राशि आहरित कर ली। उपयंत्री ने भी मशीनों के काम को मजदूरी से होना बताकर प्रमाणित कर दिया। इसके अलावा जिन कामों की राशि का आहरण पंचायत ने किया है वह भी मौके पर नहीं हो रहे हैं। इस मामले में शिकायतकर्ताओं ने संबंधित दोषी पंचायत प्रतिनिधियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...