मदद:किराए पर वाहन लेकर घर-घर से जुटाया खाद्यान्न,गांवों में बाढ़ पीड़ितों को बांटा

इंदरगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सहयोग समूह द्वारा चलाया जा रहा अभियान, मदद के लिए आगे आ रहे लोग

सिंध के उफान से कई गांव बर्बाद हो गए। लोगों के कच्चे घर तबाह हो गए। खाने पीने का सामान भी खराब हो गया। ऐसे में लोगों के पास रहने के साथ खाने के भी लाले पड़ गए हैं। प्रशासन की मदद नहीं मिलने से कई जगह अकाल जैसी स्थिति बन रही है। ऐसी परिस्थितियों में लोगों की मदद के लिए सहयोग समूह के पदाधिकारी आगे आए। उनके द्वारा नगर में वस्तु संग्रहण कार्यक्रम के तहत नगर के लोगों से वस्तुएं आटा, तेल, नमक, मसाले, अनाज खाद्य पदार्थ एकत्रित किए जा रहे हैं। जिन्हें ग्रामीण क्षेत्रों में जरूरत मंद लोगों को वितरित किया जा रहा है। खासबात यह है कि समूह के द्वारा खाद्यान्न एकत्रित करने के लिए एक गाड़ी किराए पर ली गई और उसमें एक माइक लगाया गया। उस गाड़ी को नगर इंदरगढ़ के गली मोहल्लों में घुमाया जा रहा है। माइक के माध्यम से बाढ़ पीड़ित लोगों के लिए विनम्र आग्रह किया जा रहा है कि जिस किसी व्यक्ति को बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए जो भी खाने का सामान देना हो, वह इस गाड़ी पर आकर दे जाए। नगर वासियों ने बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए अपनी सामर्थ्य के अनुसार आटा, दाल, चावल, शक्कर, तेल, मिर्च मसाला आदि सामान दिया गया।

जिसे इस टीम के द्वारा छोटे-छोटे पैकेट बनाकर जिसमें 10 किलो आटा, चावल, शक्कर, मसाले आदि बाढ़ पीड़ित ग्रामों में बांटा गया। राशन एकत्रित करने का काम प्रतिदिन सुबह 9 बजे से 5 बजे तक चलाया जाएगा। इसके बाद पैकेट के रूप में खाद्य सामग्री ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर वितरित की जाएगी। इस टीम में लक्ष्मीकांत खरे, सौरभ शर्मा, मनोज धाकड़, अजय कौंतू, शिवम उपाध्याय, निखिल शास्त्री, रमाकांत शर्मा, दिनेश सैन, दीपक नगरिया, विकास चौधरी, डैनी देसाई, संजीव रिछारिया आदि लोग उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...