• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Datia
  • From The Roads Of The Village To The Highway, The Cause Of The Accident Is Becoming A Herd Of Destitute Cattle, Ruining The Crops

अनदेखी:गांव की सड़कों से लेकर हाईवे तक बेसहारा मवेशियों का झुंड बन रहा हादसे की वजह, फसलें कर रहे बर्बाद

इंदरगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर के ग्वालियर रोड पर घूम रहा आवारा मवेशियों का झुंड। - Dainik Bhaskar
नगर के ग्वालियर रोड पर घूम रहा आवारा मवेशियों का झुंड।
  • मवेशियों से फसल बचाने किसानों को रात में करना पड़ रहा है रतजगा, दिन में हाईवे पर बैठता है मवेशियों का झुंड

रबी के सीजन में फसल की बोवनी के बाद अब इसकी आवारा मवेशियों से रखवाली करने के लिए क्षेत्रीय किसानों को ठिठुरन भरी रातों मे रतजगा करना पड़ रहा है। जरा सी निगाह चूकने पर मवेशियों का झुंड खेतों के अंदर आकर फसलों को तबाह कर रहा है। वहीं दिन में गांव से लेकर हाइवे की सड़कों पर निराश्रित गौवंश ऐसे आराम फरमाता हुआ नजर आता है जैसे वाहनों के दौड़ने की जगह इसे इनके आराम करने के लिए तैयार किया गया हो। गौशालाएं तैयार होने के बाद भी इन मवेशियों को उनमें बंद नहीं कराया जा रहा है।

आवारा मवेशियों से सबसे ज्यादा परेशानी इन दिनों रिछोरा गांव के किसानों की है। किसानों के मुताबिक इन दिनों रबी के सीजन की बोवनी पूरी हो चुकी है, लेकिन आवारा मवेशी उनकी फसल के दुश्मन बने हुए हैं। रतिराम जाटव, राकेश जाटव, बंशी विश्वकर्मा, जवाहर जाट, मोहर सिंह, कमलेश जाटव और परसराम जाटव आदि ने बताया कि दिनभर आवारा मवेशियों का झुंड गांव की सड़कों पर घूमता है और रात होते ही यह झुंड खेतों के अंदर जाकर किसानों की फसल खराब करना शुरू कर देता है।

मवेशियों से अपनी फसल को बचाने के लिए उन्हें कड़ाके की सर्दी के बीच रतजगा करना पड़ रहा है। किसानों का कहना है कि ग्राम सिकरी में पंचायत के द्वारा गौशाला का निर्माण किया गया है। जिम्मेदार अधिकारियों की अनदेखी के चलते इन मवेशियों को गौशाला के अंदर बंद नहीं किया जा रहा है।

किसानों का कहना है कि यदि इन मवेशियों को गौशाला के अंदर बंद कर दिया जाए किसानों को न सिर्फ सहूलियत होगी बल्कि इन आवारा मवेशियों के कारण होने वाले हादसों की संख्या में भी कमी आ सकती है। इसके अलावा इंदरगढ़ नगर में आवारा मवेशियों के कारण भी लोगों की परेशानी के साथ-साथ हादसों की संख्या बढ़ती जा रही है।

खबरें और भी हैं...