पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सेवा:स्वयंसेवियों ने साफ किया 500 मीटर मार्ग, बोले- यही पूजा है

सेंवढ़ा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई दिनों से बंद मंदिर खुला तो रास्ते में जमा हो गए थे कंकड़-पत्थर

नवदुर्गा महोत्सव के प्रारंभ होते ही लोग देवी मंदिरों पर जाकर आराधना करने लगे हैं पर भगुवारामपुरा के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने आराधना का नया तरीका अपनाया है। लगभग 20 की संख्या में मौजूद इन लोगों के शनिवार को माता एवं कुंअर महाराज के बीच के मार्ग को पूरी तरह साफ किया गया जो कि मंदिर बंद होने के कारण कंकड़ पत्थर के जमाव का केंद्र बन गया था। 500 मीटर का यह मार्ग आने वाले दिनों में सबसे व्यस्त मार्ग रहेगा, जिसको बगैर किसी प्रशासनिक अमले के सुविधा का केंद्र बनाया गया है।

देश भर में विख्यात रतनगढ़ माता मंदिर कोरोना संक्रमण को लेकर गाइड लाइन के चलते काफी समय से बंद था। जिसके कारण मंदिर परिसर में कुछ गंदगी और कंकड़ आदि एकत्रित हो गए थे। चूंकि मंदिर पर आने वाले लोग माता मंदिर से कुंअर बाबा मंदिर तक अक्सर नंगे पैर ही जाते है।

शुक्रवार देर शाम प्रशासन का निर्णय आने के बाद मंदिर के पट तो खुल गए पर अचानक प्रशासन के सामने परिसर को पूर्ण स्वच्छ बनाना एक चुनौती था। मंदिर को खुलवाने के लिए माता कामाख्या बालाजी सरकार समिति द्वारा बीते एक सप्ताह से ज्ञापन एवं धरना आदि दिए गए थे।

समिति के कार्यकर्ताओं ने अध्यक्ष प्रकाश चंद्र महाराज के नेतृत्व में यह संकल्प लिया था कि अगर मंदिर खुलता है तो वह स्वयंसेवा कर प्रशासन की मदद करेंगे। शनिवार को हाथ में झाड़ू एवं सफाई का सामान लिए यह कार्यकर्ता दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक सफाई करते रहे। 500 मीटर का पूरा परिसर साफ किया। इस दौरान प्रकाश चंद्र महाराज, रामकुमार गुप्ता, धमेंद्र राजपूत, आशू गुप्ता, एडी सिंह, अनूप कुमार, राहुल विश्वकर्मा, हरी राजपूत, विवेक शर्मा, अनुज राजपूत आदि मौजूद रहे। सफाई करने वाले स्वय सेवियों का स्वागत मंदिर के पुजारी राजेश कटारे द्वारा किया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें