पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दक्ष प्रजापति समाज का सम्मान समारोह संपन्न:बरदिया ने कहा- संगठित होकर रहना चाहिए क्योंकि संगठन में ही शक्ति हाेती है

दतिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसी भी कार्य के लिए संगठित होना आवश्यक है। एक संगठित समाज ही ऊंचाई पर पहुंच सकता है। कहा भी गया है कि संगठित होकर रहना चाहिए क्योंकि संगठन में ही शक्ति होती है। हम संगठित होकर रहेंगे तो कोई भी हमारी तरफ आंख उठाकर नहीं देख सकता है।

बुरी ताकतें दूर रहेंगीं। यह बात शनिवार शाम उनाव रोड स्थित श्रीरामचेरे बाबा मंदिर पर दक्ष प्रजापति समाज द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में सुरेशचंद्र बरदिया ने बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता समाज के अध्यक्ष रामस्वरूप प्रजापति द्वारा की गई। सर्वप्रथम श्रीरामचेरे बाबा मंदिर पर सुंदरकांड का पाठ हुआ। तत्पश्चात भजन संध्या कार्यक्रम हुआ।

अंत में सम्मान समारोह हुआ। इस दौरान अयोध्या प्रसाद प्रजापति और एडवोकेट आशाराम प्रजापति का शॉल, श्रीफल और दक्ष प्रजापति सम्मान वर्ष- 2021 पत्र भेंटकर सम्मान किया गया। मंच से वरिष्ठ संगीत कलाकार शीतल प्रसाद श्रीवास्तव बाबूजी, अशोक प्रजापति, स्वामीशरण, अवध गुप्ता, राजेश, मनीष का भी माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन संयोजक कमलेश प्रजापति द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अन्त में प्रसाद वितरण कर समापन किया गया।

इस मौके पर संरक्षक नारायण मुखिया, परसराम दऊआ, आशाराम बुलकिया, उपाध्यक्ष तेजराम प्रजापति, सचिव सुरेश प्रजापति, कोषाध्यक्ष धर्मेंद्र प्रजापति, युवा अध्यक्ष मानसिंह प्रजापति, पूर्व उपाध्यक्ष जितेन्द्र प्रजापति, हरिमोहन धर्मेंद्र प्रजापति, पत्रकार रामू प्रजापति, अनिल प्रजापति, राकेश प्रजापति, राम लखन प्रजापति, परमानन्द प्रजापति, पंकज प्रजापति, ब्रजेश, रघुवीर प्रजापति, रामलखन प्रजापति, खुशी लाल, छोटू, श्रीकृष्ण, राहुल प्रजापति, ऋषि, अंशु, आयुष्मान प्रजापति, वेद आदि सजातीय बंधु मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें