• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Datiya
  • DAP Fertilizer Is Not Available For Sowing Of Wheat, The Officer Said It Is Our Endeavor That Farmers Get Fertilizer On Time

खाद नहीं मिलने से परेशान किसान:गेहूं की बुआई के लिए नहीं मिल रही डीएपी खाद, अफसर बोले- हमारी कोशिश है कि किसानों को समय पर मिले खाद

दतिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खाद के लिए परेशान होते ग्रामीण - Dainik Bhaskar
खाद के लिए परेशान होते ग्रामीण

रबी फसलों के बुआई का सीजन शुरू हो गया। किसान बुआई के लिए जरूरी डीएपी खाद के लिए सरकारी बिक्री केंद्रों के चक्कर लगा रहे हैं। लेकिन वहां पर उन्हें खाद नहीं मिल रही। इससे किसान परेशान है। कृषि विभाग के अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी भी सुनवाई नहीं कर रहे। सरकारी केंद्रों पर खाद नही मिल रही है। वहीं प्राइवेट दुकानदारों के पास डीएपी का स्टाक पूरा है, लेकिन सरकारी दुकान से वह 50 से 100 रुपए अधिक में बेच रहे हैं। ऐसे में किसानों को मजबूरी में खाद खरीदना पड़ रहा है।

दरअसल, अक्टूबर में किसान सरसों गेहूं के अलावा आलू, गाजर सहित अनेक सब्जियों की बुआई शुरू कर देते हैं। इस लिए डीएपी खाद की सख्त जरूरत होती है। लेकिन किसानों को खाद नहीं मिल रही। वहीं अनेक किसान ऐसे हैं, जिनको अक्टूबर के आखिर में गेहूं की बुआई शुरू करनी होती है। जो मंडी में फसल बेचने आते है। इस लिए वे चाहते है कि जाते हुए खाद ले जाएं, लेकिन सरकारी खरीद केंद्रों पर खाद नहीं मिल रही। खाद विक्रय केंद्रों पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या मे किसान डीएपी खाद लेने आ रहे हैं। खाद का स्टॉक पूरा होने के बावजूद यहां आने वाले किसान खाली हाथ लौट रहे हैं। किसानों का कहना है की वे जिस वाहनों में मंडी तक फसल लेकर आते हैं। अगर उसी गाड़ी से खाद चली जाए तो अलग से किराया नहीं लगाना पड़ेगा।

कलेक्टर संजय कुमार ने बताया कि जिले में किसी भी प्रकार के खाद की कमी नहीं है। खाद के लिए हम सचेत हैं और सरकार के बड़े अधिकारियों से लगातार संपर्क में है। जिले के सारे सोसायटी के लोगों से बैठक की है और कोशिश कर रहे हैं कि जिले के सभी क्षेत्रों के किसानों को खाद आउटलेट से समय पर ही मिल जाए। जो लोग निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर अगर खाद बेचते हुए पाए जाते हैं, तो ये बर्दाश्त के बाहर होगा। उनपर तत्काल एफआईआर कर उचित कार्रवाई भी की जाएगी।

किसान शिव शंकर कुशवाह का कहना है कि मैं पिछले 5 दिनों से चक्कर काट रहा हूं। मुझे 15 बैग डीएपी खाद चाहिए। खाद के लिए मुझे गांव से आते लगभग 5 दिन हो गए। लेकिन अबतक खाद की कोई उम्मीद नहीं है। हमारी मांग है कि जल्द ही हमें खाद उपलब्ध हो ताकि समय पर हम फसल की बुआई कर सके।