पुल टूटने से भक्त और व्यापारी परेशान:रतनगढ़ वाली माता के दर्शन करने 8 किमी का अधिक फेरा लगाकर आ रहे हैं भक्त, छोटे कारोबारियों पर भी पड़ा असर

दतिया19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
8 किमी का फेरा लगाकर मंदिर आ रहे हैं श्रद्धालु  - Dainik Bhaskar
8 किमी का फेरा लगाकर मंदिर आ रहे हैं श्रद्धालु 

नवरात्रि की शुरुआत हो चुकी है। देश-विदेश में मां दुर्गा के मंदिरों में भक्तों का जमावड़ा लगा हुआ है। दतिया के रतनगढ़ माता मंदिर में भी भक्तों की अटूट आस्था है। इस साल मंदिर की ओर आने वाला पुल टूट गया है। जिस वजह से भक्तों को 8 किमी का अधिक फेरा लगाना पड़ रहा है। कुछ लोग टूटे पुल के साइड से निकल कर दर्शन करने मंदिर पहुंच रहे हैं।

पिछले सात सालों से आता हूं मंदिर
मुरैना से मंदिर में माता के दर्शन करने आए सीताराम अहिरवार ने बताया कि मैंने बच्चे के लिए मन्नत मांगी थी और माता ने मेरी मन्नत सुन ली। इसलिए में पिछले 7 सालों से नवरात्रि के पहले ही दिन माता के दर्शन करने मंदिर आता हूं। इसबार मंदिर के रास्ते का पुल टूटा है। इस वजह से पिछोर से घूम कर मंदिर आना पड़ रहा है। परिवार भी साथ में है और यहां आने का कोई साधन ही नहीं था। इसलिए इसबार मंदिर आने के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

नदी किनारे माता के दर पहुंच रहे हैं भक्त
नदी किनारे माता के दर पहुंच रहे हैं भक्त

दिल टूटा हुआ होने से धंधा हुआ खराब
झांसी से रतनगढ़ मेले में दुकान लगाने आई रुकमणी साहू ने बताया कि हम लोग झांसी से यहां पर बच्चों के खिलौनों की दुकान लगाते हैं। हर साल अच्छा कारोबार हो जाता है। लेकिन इस बार पुल टूटे होने के कारण लोग पीछे के रस्ते से आ रहे हैं। इसलिए हमारी दुकानों में कोई ग्राहक नहीं आ रहा है। अगर पुल सही रहता तो इस साल भी कारोबार अच्छा चलता।

मंदिर में सूना पड़ा मेला
मंदिर में सूना पड़ा मेला
खबरें और भी हैं...