ग्रामीण बोले- पानी निकासी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन:पानी निकासी के लिए नाला बनाया, खेतों में राेका पानी, बस्ती में हो रहा जलभराव

इंदरगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम पंचायत पचोखरा में किसानों द्वारा खेतों के रास्ते पर नाले को अवरूद्ध करने से बस्तियों और गांव के मुख्य मार्गों पर जलभराव के हालात पैदा हो गए। हालात यह हैं कि लोगों का अपने घरों से बाहर निकलना तक मुहाल हो रहा है। शिकायत करने पर भी स्थाई निराकरण नहीं होने से ग्रामीणों में जिम्मेदारों के प्रति आक्रोश की स्थिति पैदा हो गई है। पचोखरा में पानी की निकासी की समस्या को हल करने के लिए पवन बघेल के मकान से बलवान के मकान तक करीब सालभर पहले 300 मीटर लंबा नाला तैयार कराया गया और उसके आगे पानी की निकासी खेतों की ओर कर दी।

जिससे घरों से निकलने वाला गंदा पानी किसानों के खेतों के अंदर भरने लगा और उनकी फसलों को भी बर्बाद करने लगा। ऐसे में परेशान किसानों ने नाले को बीच रास्ते में ही अवरूद्ध करते हुए पानी को खेतों में जाने से रोक दिया है। इससे पंचायत क्षेत्र की नालियां उफान पर आ चुकी हैं और लोगों के दरवाजों पर ही पानी भरने लगा है, जिससे उनका अपने घरों से निकलना तक मुश्किल हो रहा है। ग्रामीणों ने इस समस्या कि शिकायत ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों से कराई लेकिन उन्होंने भी समस्या का कोई समाधान नहीं किया।

ऐसे में ग्रामीणों में आपसी विवाद की स्थिति तक पैदा होने लगी है। ग्रामीणों का आरोप है कि पंचायत नाले की साफ-सफाई नहीं करा रही है जिस वजह से नालियां चौक हो गई हैं। ग्रामीणों का कहना है कि उनकी समस्या का सात दिन के अंदर यदि समस्या का निराकरण नहीं किया गया तो वह तहसील का घेराव कर आंदोलन करेंगे।

खबरें और भी हैं...