बिना कपड़ों में झाड़ियों में मिली घायल युवती:दतिया में पिता बोला- मानसिक रूप से कमजोर है बेटी, मुझे फोन आया, तब घटना का पता चला

दतिया7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में बातचीत करते डॉक्टर। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में बातचीत करते डॉक्टर।

राष्ट्रीय राजमार्ग के पास स्थित दतिया एक होटल के नजदीक झाड़ियों में बिना कपड़ों में पड़ी मिली एक युवती को एंबुलेंस की सहायता से जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, तो वहीं तकरीबन 8 घंटे बीत जाने के बाद भी युवती का बिना कपड़ों में झाड़ियों में मिलना रहस्यमय में बना हुआ है।

युवती तकरीबन 20 से 21 साल की बताई जा रही है। युवती के शरीर पर गहरे जख्म के निशान भी मिले हैं। युवती कुछ कह पाने की स्थिति में नहीं है। दतिया जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे एक अलग वार्ड में शिफ्ट किया हुआ है। पुलिस के आलाधिकारी इस पूरे मामले को लेकर हाइवे के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालने में जुटे हुए हैं। प्रारंभिक जांच-पड़ताल के बाद यह निकलकर सामने आया है कि युवती उत्तर प्रदेश की रहने वाली बताई गई है। बिना कपड़ों में युवती का मिलना, दतिया पुलिस के लिए एक चुनौती बन गया है।

दतिया हाइवे के पास कटोरा ताल की झाड़ियों में बिना कपड़ों में देर रात से सुबह तक पड़ी रही युवती को जब राहगीरों ने देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। युवती कुछ कह पाने की स्थिति में नहीं हैं। वह पूरी तरह से डरी और सहमी है। इतना ही बता पाती है कि वह उप्र की है। उसने अपने पिता का भी नाम बताया है। जिला अस्पताल में उपचार के दौरान उसने अपने पिता का नंबर भी दिया है। दतिया पुलिस ने युवती के पिता को दतिया बुला लिया है। युवती उप्र से दतिया कैसे पहुंची, यह गंभीर जांच का विषय बन गया है।

जिला अस्पताल के एक डॉक्टर ने बताया कि सोमवार को सुबह 5.30 बजे इमरजेंसी में एंबुलेंस 108 ने फोन किया कि एक युवती को लेकर आ रहे हैं। स्टॉफ ने बताया कि युवती की हालत ज्यादा गंभीर है और वह लहूलुहान अवस्था में है। उसके बाद जब युवती को जिला अस्पताल लाया गया तो वह उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले हैं और वह बिना कपड़ों में थी। डॉक्टर ने इस युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की आशंका भी जताई है, हालांकि कोतवाली पुलिस को सूचना देने पर लगभग 7 बजे के करीब थाना प्रभारी रविंद्र शर्मा भी जिला अस्पताल पहुंचे। डॉक्टर का कहना है कि उसकी हालत अभी चिंताजनक है। पुलिस में मामला अभी दर्ज नहीं हो पाया है, किंतु एमएलसी और प्राथमिक रिपोर्ट के कागज पुलिस ने जिला अस्पताल को मुहैया करा दिए हैं।

युवती के पिता ने रोते हुए बताया कि उसकी पत्नी का निधन हो गया है और उसकी बेटी मानसिक रूप से कमजोर है। विगत रविवार को वह खाना बना रहे थे, तभी बेटी घर से कहीं चली गई थी। इसकी रिपोर्ट भी उप्र थाने में गत रविवार शाम कराई थी। बाद में जब अस्पताल दतिया से फोन आया, तो वह यहां पहुंच गए। उसकी बेटी मानसिक रूप से कमजोर होने के बाद सिलाई-कढ़ाई का काम करती है।

सनसनीखेज घटनाक्रम के बाद पुलिस सक्रिय

इस सनसनीखेज घटना के बाद पुलिस सक्रिय हो गई है। पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि युवती उत्तर प्रदेश से यहां कैसे आई है। युवती को जिस भी वाहन से लाया गया हो या आई हो। उसकी खोज की जा रही है। पुलिस अब उस वाहन को तलाश कर रही है।