पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आंबेडकर प्रतिमा अनावरण समारोह:राजा साहब! मेरे साथ अन्याय हुआ, तिलक तराजू, तलवार का नारा नहीं चलने देंगे: बौद्ध

दतियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भांडेर विस सीट से टिकट कटने से नाराज कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री महेंद्र बौद्ध ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के सामने मंच से दिए विरोध के संकेत
  • दिग्विजय सिंह का जवाब- अन्याय तो हुआ है, देखेंगे, कोई रास्ता निकालेंगे...

राजा साहब मेरे साथ लगातार अन्याय हो रहा है। लोकसभा व विधानसभा चुनाव में अब तक 6 बार टिकट कट चुका है। 50 साल से पार्टी के लिए काम कर रहा हूं। भांडेर से जिन्हें टिकट दिया गया है, वह तिलक, तराजू व तलवार का नारा देकर लोगों काे जातिगत रूप से बांटने का काम करते हैं लेकिन हम यह नहीं चलने देंगे।

अपनी पीड़ा आपको बता रहा हूं। आप ही न्याय करें। पूर्व मंत्री महेंद्र बौद्ध ने यह बात शनिवार को मंच से कहकर भांडेर से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया के खिलाफ विरोध के संकेत दे दिए। वे किला चौक पर आयोजित डॉ. अंबेडकर की प्रतिमा के अनावरण समारोह में बोल रहे थे। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह थे। इसके बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि दिग्विजय सिंह ने महेंद्र बौद्ध को यह कह कर ढांढस बंधाया कि हम पीछे हट नहीं सकते हैं, चर्चा करेंगे, बातचीत करेंगे, कोशिश करेंगे, हाथ पांव जोड़ेंगे और कोई रास्ता निकालेंगे, यही कह सकते हैं। अन्याय तो हुआ है लेकिन क्या कर सकते हैं। मैं टिकट वितरण में कतई हस्तक्षेप नहीं कर रहा हूं। बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति का अनावरण कराने पर मैं महेंद्र को शुभकामनाएं देता हूं। सभा को सेंवढ़ा विधायक घनश्याम सिंह और पूर्व विधायक राजेंद्र भारती ने भी संबोधित किया।

दिग्विजय सिंह ने शिवराज और सिंधिया पर साधा निशाना, बोले- 3 मार्च तक सिंधिया कह रहे थे शिवराज के हाथ किसानों के खून से रंगे हैं, अब उनके साथ घूम रहे, कौन सा वाशिंग पाउडर उपयोग किया...

दिग्विजय बोले- मुझे तो शुरू से ही ईवीएम पर भरोसा नहीं
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने संबोधन में ईवीएम पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि भाजपा चुनाव से पहले अपनी सीटें बता देती है। जब रिजल्ट आते हैं तो दो-तीन सीटें ज्यादा आती हैं। जिस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी 10-11 हजार वोट से जीतकर एमएलए बने, पांच महीने बाद ऐसा कौन सा पाप हो गया कि वहां से 70 हजार वोट से हम हार गए।

मुझे तो शुरू से ही ईवीएम पर भरोसा नहीं रहा। श्री सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा पर भी जमकर निशाना साधा। सिंह ने सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि 3 मार्च तक सिंधिया करैरा में कर्जमाफी के प्रमाण पत्र बांट रहे थे और कह रहे थे कि शिवराज के हाथ किसानों के खून से रंगे हैं। 11 मार्च को भाजपा में शामिल हो गए और अब शिवराज के साथ में घूम रहे हैं। शिवराज ने कौन सा वाशिंग पाउडर उपयोग किया जिससे खून के हाथ धुल गए।

गृह मंत्री डॉ. मिश्रा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि दतिया में संविधान की सरकार नहीं है। आईपीसी, सीआरपीसी भी नहीं हैं। यहां पीएम और सीएम डॉ. नरोत्तम मिश्रा हैं और उन्हीं की कोर्ट चल रही है। जिसे चाहा उस पर मुकदमा लगाया जा रहा है लेकिन कांग्रेस इसे बर्दाश्त नहीं करेगी।

गिट्‌टी चोरी के आरोप में फरार कांग्रेस नेता को कराया सरेंडर
पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने सर्किट हाउस में रात्रि विश्राम के बाद शनिवार को सुबह श्री पीतांबरा पीठ पर पूजा अर्चना की। इसके बाद सर्किट हाउस में पत्रकारों से चर्चा के बाद गिट्‌टी चोरी के आरोप में फरार पूर्व पार्षद अजय शुक्ला को कोतवाली में टीआई धनेंद्र सिंह भदौरिया के समक्ष सरेंडर कराया। पूर्व मुख्यमंत्री ने किला चौक पर 12 दिन से चल रही कांग्रेस की क्रमिक भूख हड़ताल का समापन भी कराया। इसके बाद डाॅ. अांबेडकर की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष नाहर सिंह यादव, पंजाब सिंह यादव, रामकिंकर सिंह गुर्जर, सेंवढ़ा जनपद उपाध्यक्ष प्रतिनिधि केशव सिंह यादव, अन्नू पठान, बृजेंद्र सिंह बैस, मोहर सिंह कौरव आदि मौजूद रहे।

हो सकती है गुटबाजी
वहीं बरैया का टिकट तय हो जाने के बाद भांडेर में कांग्रेस में गुटबाजी की संभावना बन रही है। शनिवार को दिए गए बौद्ध के बयान को भी गुटबाजी के तौर पर ही देखा जा रहा है।

भाजपाइयों ने पूर्व मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए तो कांग्रेसियों के साथ हुई नोकझोंक

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के उनाव आने से पहले ही स्वागत के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता बस स्टैंड पर एकत्रित हो गए थे। तीन बजे भांडेर व उनाव भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सनत पुजारी व मंडल अध्यक्ष रेशू दांगी के नेतृत्व कार्यकर्ता भी काले झंडे दिखाने के लिए जमा हो गए।

जैसे ही पूर्व मुख्यमंत्री उनाव पहुंचे, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मानव शृंखला बनाकर घेरा बना लिया। वहीं इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर पर भाजपाइयों पहले से ही दिग्विजय सिंह के विरोध में काले झंडे लेकर खड़े थे। जैसे ही दिग्विजय सिंह आए तो भाजपाइयों ने उनके खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी और हाथों में लिए काले झंडे लहराने लगे। भाजपाइयों के विरोध करने पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बीच इस दौरान नोकझोंक शुरू हो गई। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने सूर्य मंदिर पहुंचे, जहां भगवान बालाजी की वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा अर्चना की। यहां से किसान कांग्रेस के प्रदेश महासचिव अमित पटेल के निवास पर पहुंचकर कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें