पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध प्रदर्शन:मंदिर में चोरी के विरोध में मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

भांडेर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चौथी बार हुई घटना, मंदिर की कमेटी भंग करने की मांग की

अनुभाग के ग्राम रामगढ़ स्थित कालीमाता के मंदिर में लगातार चाैथी बार चोरी की घटना के विरोध मे माता के भक्तों ने एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा गया। ज्ञापन में उल्लेख किया है कि ग्राम रामगढ़ में आस्था का केंद्र काली माता का प्राचीन मंदिर स्थित है। जिस पर वर्तमान में पुजारी सियाशरण पुत्र ब्रजकिशोर शर्मा निवासी ग्राम दलीपुरा है। जिनकी गतिविधियां प्रारंभ से ही संदिग्ध एवं धर्म विरोधी है। इनका चरित्र भी खराब है। इनके पास असमाजिक तत्वों का जमावड़ा बना रहता है। इस कारण प्रसिद्ध धर्मस्थल का वातावरण दूषित रहता है।

पुजारी के मंदिर पर रहते इस मंदिर पर कई बार चोरी, नरमुंड मिलने जैसे जघन्य घटनाएं घट चुकी हैं। मां काली के कई बार ताले टूटने की घटनाएं तथा छत्र, आभूषण चोरी, दानपेटी चोरी कर मंदिर का सामान खुर्द बुर्द किया गया। परंतु स्थानीय प्रशासन व मंदिर की वर्तमान कमेटी के संदिग्ध गतिविधियों के कारण हर बार मामले रफा दफा कर दिए जाते रहे है। अभी 5-6 जून की दरम्यानी रात रामगढ़ वाली काली माता के मंदिर की बडी दान पेटी की पुनः चोरी होने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

ज्ञापन में मांग की गई है कि मंदिर की वर्तमान कमेटी काे भंग किया जाकर पुजारी सियाशरण शर्मा तथा इनके सहयोगियों पर अपराध दर्ज कर आरोपियों को तीन दिवस में गिरफ्तार किया जाए। अन्यथा धार्मिक हिन्दू संगठनों तथा जनसामान्य व धर्म प्रेमियों द्वारा आन्दोलन किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में हरीओम त्रिपाठी, रामजीवन राय, रवीन्द्र सत्यार्थी, राधारमण, भुवनेश पाराशर, ऋषि नामदेव, प्रदीप भार्गव, लोकेन्द्र केवट, अरविन्ददांगी, सुरेन्द्र रायकवार सहित अन्य लोग शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...