पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनदेखी:हाउसिंग बोर्ड के प्लाॅटों पर कब्जा, खाली कराने में प्रशासन को आ रहा पसीना

दतिया19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एंटी माफिया मुहिम में करोड़ों की सरकारी जमीन मुक्त कराई
  • 1970 में हाउसिंग बोर्ड ने काटी थी कॉलोनी, कब्जा हुए प्लॉटों की कीमत दो करोड़ से अिधक

प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान माफिया पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दे रहे हैं। स्थानीय प्रशासन भी भू माफिया पर कार्रवाई कर रहा है। प्रशासन ने दतिया व सेंवढ़ा में कार्रवाई कर 20 करोड़ बाजार मूल्य की जमीन को मुक्त भी करा लिया। लेकिन पुरानी हाउसिंग बोर्ड के प्लाटों पर जमा कब्जा हटाने में पसीना आ रहा है। इसका बाजार मूल्य लगभग डेढ़ से दो करोड़ रुपए है।

हाउसिंग बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि जब भी कब्जा हटाने जाते हैं तो कब्जेधारी उनसे लड़ने के लिए तैयार हो जाते हैं। हरिजन एक्ट लगवाने की भी धमकी देते हैं। इसकी लिखित शिकायत कर नपा में भी गुहार लगाई है। लेकिन कार्रवाई नहीं हुई।

बता दें कि पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेश पर एंटी भू माफिया अभियान चलाया जा रहा है। दतिया शहर में यह अभियान 28 दिसंबर से प्रारंभ हुआ और 15 दिन तक ही चला। इस अभियान के तहत राजस्व और नगर पालिका ने सेंवढ़ा चुंगी, सेंवढ़ा रोड स्थित न्यू बायपास रोड, बस स्टैंड बायपास, न्यू बायपास पर, ग्राम लरायटा के मौजे में, नगर पालिका कॉम्पलेक्स के सामने, देहात थाने के सामने और चूनगर फाटक बाहर सरकारी जमीनों से कब्जे हटाए।

लेकिन हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के अधिकारियों द्वारा कई बार लिखित में पत्र देने के बाद भी बोर्ड के प्लॉटों से कब्जे नहीं हटाए गए। बोर्ड के पांच प्लॉट के साथ कुछ खाली जमीन जिसका बाजार मूल्य दो करोड़ अधिक है, वहां एक ही परिवार के पांच लोगों ने पक्के मकान बना लिए हैं।

हाउसिंग बाेर्ड के अधिकारियों ने पहले कब्जेदारों से कब्जा हटाने के लिए कहा लेकिन जब कब्जेदारों ने गाली गलौज की, झूठा प्रकरण दर्ज कराने की बात कही तो बोर्ड के अधिकारियों ने प्रशासनिक अफसरों को भी लिखित में अवगत कराया। लेकिन फिलहाल बोर्ड की शिकायत पर कार्रवाई नहीं हुई है।

जिसके नाम प्लाॅट वह काट रहे चक्कर
बोर्ड ने साल 1970 में कॉलोनी काटी थी। शांति देवी ने यहां 40 गुणा 60 वर्ग फीट का प्लाॅट बुक किया। चूंकि प्लाॅटों पर कब्जा हो चुका था, ऐसे में शांति देवी को बोर्ड प्लाॅट आवंटित नहीं कर सका। शांति देवी ने न्यायालय की शरण ली। न्यायालय ने बोर्ड को आदेश दिए कि वह शांति देवी को 2400 वर्ग फीट का प्लाॅट तत्काल दे। चूंकि प्लाॅटों पर कब्जा है। बोर्ड उन्हें खाली नहीं करा पा रहा। ऐसे में शांति देवी अपने प्लाॅट के लिए बोर्ड के चक्कर काट रही हैं। बोर्ड के अधिकारी कहते हैं कि प्लाॅट सहित जमीन अतिक्रमण मुक्त हो जाए तो वह शांति देवी को प्लाॅट उपलब्ध करा सकें।

डेढ़ करोड़ से अधिक है बाजार कीमत
पुरानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी वर्तमान में शहर के बीच में आ चुकी है। कृषि मंडी सामने है। इस कॉलोनी में वर्तमान में जमीन की कीमत 3 हजार रुपए वर्ग फीट से अधिक है। बने हुए मकान 40 से 45 लाख रुपए में भी उपलब्ध नहीं है। यहां पर बोर्ड का एक प्लाॅट 2400 वर्ग फीट है तो शेष 1500 वर्ग फीट के। लगभग 8400 वर्ग फीट पर कब्जा है। यहीं नहीं कुछ खाली सरकारी जमीन पर भी लोगों ने कब्जा कर रखे है। खासबात यह है कि सभी प्लाॅट मुख्य सड़क मार्ग पर हैं। ऐसे में बोर्ड को कब्जा हटाने में पसीना आ रहा है।

कब्जा हटाने पर लोग लट‌्ठ लेकर आ जाते हैं
^ जो प्लॉट हैं जिन पर वहां के लोगों ने कब्जा कर लिया है। हम जाते हैं तो लट्ठ लेकर आ जाते हैं। हरिजन एक्ट का प्रकरण दर्ज कराने की धमकी देते हैं। हमने इस संबंध में लिखित में शिकायत भी की है और नगर पालिका सीएमओ से भी बात हुई है। सीएमओ ने कहा कि जल्द कब्जा हटवाएंगे। -पीएस भार्गव, सहायक यंत्री, एमपी हाउसिंग बोर्ड

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें