श्रीमद्भागवत गीता का पाठ:विष्णु सहस्रनाम पाठ के साथ श्री रामानुज धाम आश्रम पर सम्पन्न श्रीमद्भागवत गीता का मूल पाठ

दतियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आज गीता जयंती पर पूर्णाहुति हवन के साथ होगा विशाल भंडारा

श्रीरामानुज आश्रम, सहस्त्रफणधारी भगवान शेषनाग मन्दिर दतिया पर चल रहे धार्मिक कार्यक्रमों के तहत सोमवार को श्री विष्णु सहस्रनाम पाठ के साथ श्रीमद्भागवत गीता का मूल पाठ सम्पन्न हुआ। शनिवार से शुरू हुए श्रीमद्भागवत गीता के मूल पाठ को विधि विधान से वृन्दावन से पधारे आचार्य करुणा शंकर द्विवेदी, पंडित विनोद शंकर त्रिवेदी, पंडित ब्रह्मदेव दुबे, पंडित नवल किशोर तिवारी, पंडित शांतनु शुक्ला, पंडित राकेश शास्त्री, पंडित सतीश शास्त्री आदि विद्वान पंडितों द्वारा सम्पन्न कराया गया। धार्मिक अनुष्ठान में मुख्य यजमान के रूप में रमन कटियार फरुखाबाद उप्र शामिल हुए।

इससे पूर्व श्रीमद्भागवत गीता के 18 अध्यायों में वर्णित 700 श्लोकों से यज्ञवेदी में आहुतियां दी गई। हवन में रमन कटियार, सुभाष गुप्ता बागर्दन वाले, अजय चतुर्वेदी जयपुर, मामा दिल्ली, सतीश गुप्ता इन्दरगढ़ व हरगोविंद रिछारी यजमान के रूप में शामिल हुए। श्री रामानुज धाम आश्रम पर चल रहे धार्मिक कार्यक्रमों के तहत मंगलवार को धार्मिक उल्लास के साथ गीता जयंती मनाई जाएगी। श्री रामानुज धाम के अधिष्ठाता अनन्तश्री विभूषित स्वामी देवनायकाचार्य समदर्शी महाराज के सानिध्य में सुबह 9 बजे से धार्मिक अनुष्ठान शुरू होंगे, जिसमें गौरी गणेश पूजन, सर्वतोभद्र मंडल,षोडश मातृका, सत्यघ्रत मातृका, क्षेत्रपाल पूजन, श्री रामानुज स्वामी का अभिषेक व द्रौपदी मईया का पूजन धार्मिक विधि विधान से वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ होगा ।

धर्मगुरु पंडित राधाकृष्ण शुक्ला, भागवताचार्य एवं पंडित बाबूलाल दीक्षित, सुदामाशरण शास्त्री भागवताचार्य हसनपुर के मार्गदर्शन में पंडित गौरव तिवारी, मुरलीधर शर्मा, आत्माराम दुबे, संजय उपाध्याय, उत्तम पाठक,आशु शर्मा मुरेरा, आकाश शर्मा, ब्रजेश पचौरी, हरिमोहन पांडेय के द्वारा दोपहर 12 बजे पूर्णाहुति हवन सम्पन्न कराया जाएगा। इसके बाद विशाल भंडारे का आयोजन होगा। धार्मिक कार्यक्रम व भंडारे की व्यवस्था संचालन में राजकुमार सिंह चौहान, डॉ. मयंक ढेंगुला, कृष्णकांत लिटौरिया, कप्तान राजा, उमादेवी, मैथलीशरण, पिंटू सेठ गुप्ता बड़ौनी एवं नीतेश बघेल सीतापुर द्वारा किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...