पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Datiya
  • Shree Pitambara Peeth Is Closed On Saturday Sunday, Darshan For The Rest Of The 5 Days Till 5 Pm, No Entry In Night Aarti

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का असर:श्री पीतांबरा पीठ शनिवार-रविवार को बंद, बाकी 5 दिन शाम 5 बजे तक ही दर्शन, रात की आरती में भी प्रवेश नहीं

दतिया12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आज शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू रोजाना
  • लॉकडाउन के दौरान पेट्रोल पंप, मेडिकल स्टोर, अस्पताल खुलेंगे, कोरोना जांच और टीकाकरण के लिए भी आ-जा सकेंगे

कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में प्रदेश सरकार ने शुक्रवार की शाम 6 बजे से साेमवार की सुबह 6 बजे तक 60 घंटे लाॅकडाउन घाेषित किया है जाे जिले में भी प्रभावी रहेगा। इसके अलावा राेज रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा जो गुरुवार की रात से ही लागू हो गया है।

लॉकडाउन के संबंध में स्थानीय स्तर पर कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिया है। वहीं श्री पीतांबरा पीठ पर दूसरे जिलों से आने वाले श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। पीठ शनिवार-रविवार को दर्शनार्थियों के लिए बंद रहेगी। सोमवार से शुक्रवार तक स्थानीय लोग ऑनलाइन पंजीयन के बाद ही दर्शन कर सकेंगे लेकिन रात की आरती में प्रवेश नहीं मिलेगा क्योंकि रोज मंदिर में शाम 5 बजे तक ही प्रवेश दिया जाएगा।

बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में मार्च के दूसरे पखवाड़े से मरीजों की संख्या बढ़ना शुरू हो गई। अप्रैल महीने के 7 दिन में ही 103 मरीज पॉजिटिव मिल चुके हैं। लगातार बढ़ रही मरीजों की संख्या को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन की घोषणा की है।

इसके बाद गुरुवार को कलेक्टर कुमार ने भी जिले के सभी नगरीय क्षेत्रों के लिए 72 घंटे के लॉकडाउन का आदेश जारी कर दिया। इसके अलावा जिलेभर में रोज रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू भी रहेगा। इस दौरान अत्यावश्यक गतिविधियां प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी।

बाहर से आने वालों को तहसीलदार को सूचना देनी होगी, 10 दिन का क्वारेंटाइन रहना होगा

जिले में अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों को एक सप्ताह के भीतर कोरोना टेस्ट कराई गई रिपोर्ट एवं आने की सूचना संबंधित क्षेत्र के तहसीलदार को देनी होगी। बिना सूचना दूसरे प्रदेश से जिले में प्रवेश करने पर कार्रवाई होगी। अन्य जिलों से दतिया जिले में आने पर 10 दिन अपने ही निवास स्थान पर क्वारेंटाइन रहना होगा।

सोमवार से शुक्रवार तक ही खुलेंगे सरकारी दफ्तर, जनसुनवाई स्थगित

अब सभी शासकीय कार्यालयों में सप्ताह में पांच दिन यानि सोमवार से शुक्रवार तक ही काम होगा। इस दौरान कार्यालयीन समय सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक रहेगा। शनिवार व रविवार को सभी सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे। वहीं प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई आगामी आदेश तक स्थगित की गई है।

जानिए... लॉकडाउन में क्या होगा-क्या नहीं

  • अन्य राज्यों से माल सेवाओं का आवागमन हो सकेगा।
  • राशन दुकान, मेडिकल स्टोर, पेट्रोल पंप, अस्पताल व बैंक खुलेंगे।
  • केंद्र व राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अफसर-कर्मचारी, टीकाकरण के लिए आम नागरिक और कर्मचारी आ-जा सकेंगे।
  • परीक्षा केंद्र आने व जाने वाले प्रशिक्षार्थी, परीक्षा केंद्र व परीक्षा आयोजन से जुड़े कर्मचारी, अधिकारी भी प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।
  • एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड, गैस एजेंसी और दुग्ध उत्पाद की होम डिलीवरी पर भी प्रतिबंध नहीं रहेगा।
  • रेस्टोरेंट और ठेले, चाट, चौपाटी आदि ऐसे प्रतिष्ठान जहां भोजन-नाश्ता बेचा जाता है, वहां बैठकर, खड़े रहकर खाने पर प्रतिबंध रहेगा। भोजन पैक कर दिया जा सकेगा।

स्थानीय लोगों को भी दर्शन के लिए कराना होगा पंजीयन

श्री पीतांबरा पीठ के व्यवस्थापक मनोज दुबे ने बताया कि शनिवार और रविवार को लॉकडाउन के कारण मंदिर बंद रहेगा। सोमवार से शुक्रवार तक प्रतिदिन सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को ऑनलाइन पंजीयन कराने पर ही मंदिर में प्रवेश मिलेगा। रात में होने वाली मां पीतांबरा की आरती में शामिल होने की अनुमति नहीं होगी। दर्शन के लिए प्रवेश उत्तर गेट से ही होगा। मंदिर में फूल माला, प्रसाद, वस्त्र व अन्य सामान ले जाना वर्जित रहेगा। मास्क के साथ आपस में दो गज की दूरी का पालन करना होगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें