तापमान बढ़ने से फसलों को राहत:तेज हो गई धूप, पारा 2.5 डिग्री बढ़कर 32.8 डिग्री पर

दतिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तेज धूप निकलने से अधिकतम तापमान और न्यूनतम तापमान में फिर से बढ़ोतरी होने लगी है। पिछले 24 घंटे में अधिकतम तापमान ढाई डिग्री बढ़कर 32.8 और न्यूनतम तापमान भी इतना ही बढ़कर 15.8 डिग्री पर पहुंच गया। बारिश के बाद निकली तेज धूप और हवा का डायरेक्शन शांत रहने से फसलों को फायदा होगा। खासकर कटी हुईं फसलें जल्द सूखेंगी और किसान से दो तीन दिन बाद ही इनकी थ्रेसिंग करा सकेंगे। शुक्रवार को दिन में हुई बारिश से खेतों में कटी पड़ी सरसों, मसूर और मटर की फसलें गीली हो गई थीं। फसलों के गीले होने से फसल को नुकसान की आशंका जताई जा रही थी। दीमक भी लगने का डर था। किसान फसलें गीली होने से काफी चिंतित थे। लेकिन अब यह चिंता दूर हो गई है।

शनिवार को सुबह तेज धूप निकलते ही किसान खेतों पर पहुंचे और कटी पड़ीं फसलों को पलटना शुरू कर दिया। साथ ही जो ढेर के रूप में रखी थीं उनको भी फैलाकर रख दिया था। रविवार को भी सुबह से तेज धूप निकली। जिससे फसलों में होने वाले नुकसान से बच गया।

यही नहीं तेज आंधी के कारण गेहूं की फसलें भी खेतों में बिछ गई थीं लेकिन अब धूप निकलने से वे फसलें भी उठकर खड़ी हो जाएंगीं। शनिवार को अधिकतम तापमान 30.5 और न्यूनतम तापमान 13.4 डिग्री दर्ज किया गया था। रविवार को अधिकतम तापमान और बढ़कर 32.8 और न्यूनतम तापमान 15.8 डिग्री पर पहुंच गया है।

बारिश के बाद निकली धूप से तापमान बढ़ रहा है और गर्मी फिर से बढ़ने लगी है। लगातार बढ़ती गर्मी के कारण कूलर पंखे रिपेयर करने वाले दुकानदारों की दुकानें सज गई हैं। राजगढ़ चौराहा और सीतासागर के सामने दुकानदारों ने नए कूलर पंखे बनाना शुरू कर दिया है।

दुकानदारों का मानना है कि इस बार गर्मी जल्दी आ गई और काफी दिनों तक रहेगी। गर्मी पिछले सालों की तुलना में ज्यादा रहेगी इसलिए कूलर पंखों की डिमांड भी बढ़ेगी। इसलिए दुकानदार पहले ही कूलर पंखे बनाकर स्टॉक रखने लगे हैं।

खबरें और भी हैं...