पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Datiya
  • There Was A Fight Between The Mother in law For Over A Week, Both Of Them Ate Each Other With Sulfas, The Mother in law's Death

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

झगड़े ने ली जान:सप्ताह भर से सास-बहू के बीच चल रहा था झगड़ा, दोनों ने एक दूसरे को सल्फास दिखाकर खाया, सास की मौत

दतिया15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्राम दिगुवां की घटना, थरेट पुलिस को भनक तक नहीं, ग्वालियर से मर्ग डायरी आने का इंतजार

थरेट थाना क्षेत्र के ग्राम दिगुवां में सास और बहू के बीच सप्ताह भर से चल रहा सोमवार को सुबह जहर खाने तक पहुंच गया। दोनों के बीच विवाद होने पर गेहूं में रखीं सल्फास की गोलियां निकाली फिर एक दूसरे को बताकर गटक लीं। हालत बिगड़ने पर दोनों को इंदरगढ़ अस्पताल ले जाया गया जहां से ग्वालियर रैफर कर दिया गया।

ग्वालियर में सास की माैत हो गई। हैरानी इस बात की है कि घटना सुबह की होने के बाद भी थरेट पुलिस को भनक नहीं लगी। पत्रकारों ने जानकारी दी इसके बाद भी ग्वालियर में इलाजरत बहू के बयान लेने थरेट पुलिस ग्वालियर नहीं गई। थरेट पुलिस ग्वालियर में पीएम होने के बाद मिलने वाली मर्ग डायरी का इंतजार कर रही है और उसी के बाद जांच शुरू होगी।

जानकारी के अनुसार ग्राम दिगुवां निवासी रामश्री (55) रामसेवक किरार का अपनी बहू मिथिलेश (30) पत्नी विक्रम किरार के साथ पिछले एक सप्ताह से पारिवारिक विवाद चल रहा था। सोमवार को सुबह सात बजे भी दोनों के बीच विवाद हुआ। इसके बाद बहू मिथिलेश गेहूं में रखी सल्फास की गोलियां लेकर आई और सास रामश्री को दिखाते हुए खा लिया। इसके बाद सास रामश्री भी गोलियां लाई और बहू को दिखाकर गटक लीं। कुछ देर में ही दोनों की तबियत बिगड़ी और जमीन पर गिर पड़ीं।

यह देख परिजन दोनों को इंदरगढ़ अस्पताल ले गए जहां से हालत नाजुक देखते हुए दोनों को ग्वालियर रैफर कर दिया गया। ग्वालियर में सास रामश्री की मौत हो गई। जबकि बहू की हालत अभी भी नाजुक है। वहीं थरेट थाना प्रभारी शशांक शुक्ला का कहना है कि हमें सूचना नहीं मिली है न कोई थाने में आया है। ग्वालियर में पीएम होने के बाद मर्ग डायरी आएगी और हम जांच शुरू कर देंगे।

सवाल यह है कि बहू ग्वालियर अस्पताल में है और अभी जिंदा है। बहू से पूछताछ करने से घटना का असल कारण पता चल सकता है। लेकिन पुलिस ग्वालियर बयान लेने क्यों नहीं जाना चाहती है। जबकि कई घटनाओं में पुलिस ऐसे मामलों में संबंधित के बयान लेने अस्पताल जाती है न कि किसी के थाने आने का इंतजार करती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें