पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोर्ट ने सुनाई सजा:नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले को उम्रकैद की सजा

गोहद3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट गोहद पूरन सिंह की कोर्ट का फैसला

विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट गोहद पूरन सिंह की कोर्ट ने नाबालिग का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले आरोपी को उम्र कैद की सजा सुनाई है। साथ ही उस पर पांच हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। आरोपी ने वर्ष 2015 में दांत का इलाज कराने जा रही नाबालिग का बाजार से अपहरण कर लिया था। इसके बाद उसे इलाहाबाद लेकर जबरन दुष्कर्म किया।

सहायक जिला अभियोजन अधिकारी प्रवीण सिंह सिकरवार ने बताया कि 24 जुलाई 2015 की दोपहर 12 बजे मौ कस्बे की एक नाबालिग अपने घर से दांत का दवा लेने के लिए निकली थी। लेकिन रास्ते में 35 वर्षीय उमेश पुत्र सुघर सिंह यादव निवासी गणसान थाना नसीरपुर जिला फिरोजाबाद (उत्तरप्रदेश) उसे बहलाकर अपने साथ इलाहाबाद ले गया था। वहीं जब नाबालिग देर शाम तक घर नहीं आई तो परिजन ने थाने पहुंचकर अज्ञात आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया।

पुलिस की जांच पड़ताल में उमेश यादव का नाम आया। साथ ही पता चला कि उमेश ने नाबालिग को इलाहाबाद में अपने साथ पत्नी के रुप में रखा और उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में नाबालिग की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने उमेश के विरुद्ध अपहरण, दुष्कर्म और हत्या के साथ पाक्साे एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर प्रकरण न्यायालय को भेजा। न्यायालय ने मामले की सुनवाई के दौरान आरोपी उमेश यादव को दोषी पाते हुए उसे उम्र कैद की सजा सुनाई है। साथ ही पांच हजार रुपए का अर्थदंड लगाया है।

खबरें और भी हैं...