पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लेटलतीफी:3 साल पहले 6 करोड़ के विकास कार्यों के टेंडर हुए, काम अब तक शुरू नहीं

गोहद16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैसली नदी के पास यहां पार्क बनाने का तीन साल पहले हुआ था टेंडर - Dainik Bhaskar
बैसली नदी के पास यहां पार्क बनाने का तीन साल पहले हुआ था टेंडर
  • ठेकेदारों की लापरवाही से पिछड़ रहा गोहद का विकास, अफसर बेफिक्र
  • सीएमओ बोले- नोटिस देंगे, काम शुरू नहीं किया तो टेंडर निरस्त

नगर पालिका गोहद द्वारा नगर में 6 करोड़ रुपए की लागत होने वाले विकास कार्यों के लिए तीन साल पहले वर्क आर्डर जारी किए जा चुका है। लेकिन कार्य अभी तक शुरू नहीं हुए हैं। खास बात तो यह है कुछ विकास कार्यों का तो भूमि पूजन तक हो चुका है। ऐसे में लंबे समय से विकास की राह की देख रहे नगरवासियों को अब भी विकास की कोई आस नजर नहीं है। जबकि जनप्रतिनिधियों द्वारा राजनैतिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में लोगाें को नगर के विकास के वादे किए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि नगर पालिका द्वारा तीन साल पहले परिषद की बैठकों में कम्युनिटी हॉल, तीन पार्क और बैसली नदी पर रपटा बनाने के लिए 6 करोड़ रुपए की मंजूरी के साथ वर्ष 2018 में टेंडर और वर्क आर्डर जारी किए गए थे। लेकिन इतने लंबे समय के बाद भी विकास कार्य ठेकेदारों के द्वारा शुरू नहीं किए गए हैं।गोहद और गोहदी को जोड़ने के लिए बैसली नदी पर1.50 करोड़ रुपए की लागत से रपटा बनाने के लिए वर्ष 2018 में नगर पालिका ने टेंडर जारी किया था। लेकिन टेंडर जारी हाेने के बाद भी अभी तक नदी पर रपटा बनाने के लिए काम शुरू नहीं हुआ है।

1 करोड़ में हुआ था कम्युनिटी हॉल का टेंडर

साल 2018 में नगर के पुराने थाने के पास नगर पालिका द्वारा कम्युनिटी हॉल बनाया जाना था। जिसके लिए नपा ने 1 करोड़ रुपए बजट का टेंडर भी जारी किया था, लेकिन टेंडर होने के बाद भी ठेकेदार द्वारा काम शुरू नहीं किया गया है। खास बात तो यह है कि नगर पालिका में जो भी सीएमओ आए उन्होंने भी कम्युनिटी हॉल निर्माण पर ध्यान नहीं दिया। इसलिए लोगों को अब तक कम्युनिटी हॉल की सुविधा नहीं मिल पाई है।

अधूरा पड़ा पार्क सौंदर्यीकरण का काम

लक्ष्मण तलैया और बैसली डेम के पास मौजूद पार्क के सौंदर्यीकरण के लिए नगर पालिका द्वारा वर्ष2018-19 में परिषद की बैठक में 2.50करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई थी। वर्क आर्डर जारी होने के बाद नपा ठेकेदार कुछ दिन काम किया। जिसके बाद काम बंद कर दिया गया। इसके अलावा नगर में एक करोड़ रुपए की लागत से एक नया पार्क बनना था। जिसके लिए वर्ष2019 में वर्क आर्डर नपा द्वारा जारी किया गया था। लेकिन अभी तक पार्क का काम शुरू नहीं हो सका है।

ठेकेदारों को नोटिस दिए जाएंगे

नगर में जो विकास कार्य पिछले तीन साल से बंद हैं। इस संबंध में मैं सब इंजीनियर से चर्चा करते हुए संबंधित ठेकेदारों के खिलाफ नोटिस जारी किए जाएंगे। उसके बाद भी ठेकेदारों के काम शुरू नहीं किया जाता है तो टेंडर निरस्त कर दिए जाएंगे। सतीश दुबे, सीएमओ, नपा गोहद

खबरें और भी हैं...