पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घटिया सामुदायिक स्वच्छता परिसर:2.40 लाख की लागत के स्वच्छता परिसर का घटिया निर्माण, पहली ही बारिश में लीकेज शुरू

कराहल15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सामुदायिक स्वच्छता परिसर का बाहर से कर दिया रंगरोशन - Dainik Bhaskar
सामुदायिक स्वच्छता परिसर का बाहर से कर दिया रंगरोशन
  • सीईओ बोले- कराएंगे जांच, घटिया निर्माण हुआ तो उपयंत्री से लेकर पंचायत सचिव पर कार्रवाई

ग्राम पंचायतों में होने वाले निर्माण भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ते जा रहे हैं। बारिश ने इन दिनों हो रहे निर्माणों के घटिया होने की पोल खोलकर रख दी है। लाखों रुपए की लागत से हो रहे निर्माणों की गुणवत्ता की जांच तो न पंचायत के इंजीनियर कर रहे हैं और न ही अधिकारियों का कोई गौर है।

पंचायत सचिव और इंजीनियर की सांठगांठ से होने वाले निर्माण कार्य भगवान भरोसे हैं और यह कब दरक जाएं किसी को पता नहीं। ग्राम पंचायत बरगंवा में 2.40 लाख की लागत से निर्माणाधीन सामुदायिक स्वच्छता परिसर भ्रष्टाचार और घटिया निर्माण की भेंट चढ़ चुका है। पहली ही बारिश में सामुदायिक स्वच्छता परिसर की छत से बारिश का पानी टपक रहा है बल्कि दीवारों में चारों तरफ पानी बैठना शुरू हो गया है। इससे दीवारों के दरकने का खतरा शुरू हो गया है।

बुधवार को सामुदायिक स्वच्छता परिसर की दीवारों पर जैसे ही पानी बैठना शुरू हुआ तो ग्रामीणों ने इंटरनेट मीडिया के माध्यम से जनपद सीईओ एस एस भटनागर को फोटो शेयर करने के बाद उनसे तत्काल शिकायत करते हुए सामुदायिक स्वच्छता परिसर की खराब गुणवत्ता से अवगत कराया। अब मामले में जनपद सीईओ एस एस भटनागर का कहना है कि वह गुरुवार को बरगंवा पंचायत में जाकर खुद ही सामुदायिक स्वच्छता परिसर का निरीक्षण करेंगे। यदि घटिया निर्माण हुआ तो पंचायत सरपंच, सचिव और उपयंत्री के खिलाफ प्रतिवेदन तैयार किया जाएगा और उनके द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्यों के खिलाफ जांच भी कराई जाएगी।

25 से ज्यादा अधूरे निर्माण

गांवों में तैयार किए जा रहे सामुदायिक स्वच्छता परिसर 25 से अधिक पंचायतों में अधूरे पड़े हुए हैं। जिससे ग्रामीण इनका उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। कराहल ब्लॉक की ग्राम पंचायत पहेला, सूंसवाड़ा, टोंगरा, झिरन्या सहित करीब 25 पंचायतों में सामुदायिक स्वच्छता परिसर का निर्माण अधूरा पड़ा हुआ है।

मैं जाकर हालात देखूंगा

सामुदायिक स्वच्छता परिसर का काम तो गुणवत्ता के साथ किया जाना था लेकिन घटिया निर्माण की शिकायत मिल रही है। मैं कल खुद जाकर जांच करूंगा। पंचायत सरपंच, सचिव और उपयंत्री के द्वारा यदि लापरवाही बरती गई है तो इस संबंध में उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। -एसएस भटनागर, जनपद सीईओ, कराहल

खबरें और भी हैं...