पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Karhal
  • When Told About Improving Livelihood By Making Soap, The Principal Secretary Asked How Do You Save...; Not A Single Woman Could Answer

दौरा:साबुन बनाकर आजीविका सुधारने की बात बताई तो प्रमुख सचिव ने पूछा- कैसे करती हो बचत...; एक भी महिला नहीं दे सकी जवाब

कराहल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव को शिकायत दर्ज कराते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव को शिकायत दर्ज कराते ग्रामीण।
  • आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन ने जानी कराहल ट्राइबल ब्लॉक में योजनाओं की हकीकत

शुक्रवार को आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव कराहल पहुंची। यहां उन्होंने स्कूल, अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद आदिवासी महिलाओं के एनआरएलएम के समूहों के कार्यक्रम में भागीदारी की। इस दौरान उन्होंने जब समूह की अध्यक्ष व अन्य महिलाओं से समूह के माध्यम बचत व खपत से लेकर आय-व्यय के बारे में पूछा तो महिलाएं उन्हें कोई जवाब नहीं दे सकी।

शुक्रवार को आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन कराहल पहुंची। यहां उन्होंने अस्पताल व स्कूल समेत अन्य सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण किया। इसके साथ ही ट्राइबल ब्लॉक कराहल में आदिवासियों को क्या-क्या सुविधाएं मिल रही है यह हकीकत जानी। ट्राइबल पीएस के आने के साथ एनआरएलएम के द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें उन्हें बताया गया कि आदिवासी महिलाएं एनआरएलएम से जुड़कर समूह के माध्यम से रुपए कमा रही है और साबुन, सर्फ से लेकर अन्य निर्माण कर रही है।

इससे उनकी आजीविका में सुधार हुआ है। इस पर पीएस पल्लवी जैन ने एक समूह की अध्यक्ष जमुना आदिवासी से पूछा कि वह समूह के माध्यम से कितनी बचत कर रही है और उनके सामान की बाजार में कितनी खपत है। इस पर अध्यक्ष कोई जवाब नहीं दे सकी। उनकी जगह एनआरएलएम के डीपीएम सोहनकृष्ण मुदगल ही सभी सवालों के जवाब देते नजर आए। कार्यक्रम खत्म होने के बाद जब वह लौट रही थी तो कराहल की आचार वाला सहराना के आदिवासियों ने उन्हें घेर लिया और पानी की समस्या से अवगत कराया। इस पर सीईओ को तत्काल समस्या के निदान के निर्देश दिए गए।

खबरें और भी हैं...