पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टीकाकरण में विवाद:पहले वैक्सीन लगवा नहीं रहे थे ग्रामीण, अब कर रहे हंगामा, बुलानी पड़ी पुलिस

करैरा/सिरसौद24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आदर्श ग्राम सिरसौद में वैक्सीन खत्म होने के चलते हंगामा करते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
आदर्श ग्राम सिरसौद में वैक्सीन खत्म होने के चलते हंगामा करते ग्रामीण।
  • अपने नंबर को लेकर वैक्सीन लगवाने आपस में झगड़ा तक करने पर उतारू हो रहे हैं ग्रामीण

भले ही पहले स्वस्थ्य कर्मियों सहित अधिकारी-कर्मचारियों की समझाईश के बाद भी लोग वैक्सीन लगवाने को तैयार नहीं हो रहे थे। साथ ही वैक्सीन हो मौत का इंजेक्शन बता रहे थे। लेकिन अब हालात तेजी से बदल रहे हैं। स्थिति यह है कि वैक्सीन के प्रति ग्रामीण इतने जागरूक होने लगे हैं कि वैक्सीन शिविर की सूचना मिलते ही सैकड़ों ग्रामीण एकत्रित हो जाते हैं।

गौरतलब यह है कि भीड़ के साथ लंबी-लंबी लाइन लगाने के बाद भी ग्रामीण वैक्सीन लगाने अपने नंबर का इंतजार कर रहे थे। लक्ष्य पूरा होने के चलते वैक्सीन खत्म हो गई। यह बात जैसे ही लाइन में लगे लोगों को पता चला कि वैक्सीन खत्म हो गई है तो वह हंगामा करते हुए अस्पताल के अंदर घुस गए और स्वस्थ्य कर्मचारियों से अभद्रता करने लगे। तभी तेज आवाज में हो रहे हंगामा से डरे स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाईश दी। इसके बाद मामला कई जाकर शांत हुआ। इतना ही नहीं ग्रामीण सुबह से ही मेरा है पहले मैं लगवाऊंगा की बात पर भी शोर गुल कर रहे थे। ग्रामीणों की माने तो कोरोना से बचने के लिए वैक्सीनेशन जरूरी, साथ ही तीसरी लहर की सूचना से ग्रामीणों में वैक्सीन लगवाने की होड़ मची हुई है।

वैक्सीन खत्म, तो लाइन में लगे लोगों ने किया हंगामा

स्वास्थ्य सेवाओं में अव्यवस्था ना बन जाए इसके लिए पुलिस का एक जावन भी मौजूद बना था। टीकाकरण की पहली प्राथमिकता दूसरे डोज के लोगों के लिए रखी गई थी। भीड़ को देखते हुए स्वास्थ्य व्यवस्था ना बिगड़े इसके लिए पहले डोज के लोगों को भी बीच बीच में वैक्सीन डोज लगाया जा रहा था। जबकि दूसरे डोज के लिए मात्र 100 डोज आए तो वही 100 डोज केवल आधे घंटे के भीतर पूरे हो गए। जैसे वैक्सीन खत्म हुई तो लाइन में खड़े लोग भीड़ के साथ अस्पताल के अंदर पहुंचकर कर्मचारियों से अभद्रता करने लगे। देखते ही देखते स्वास्थ्य व्यवस्था अव्यवस्थाओं में बदल गई। हालात ये हुए कि अस्पताल के अंदर शोर मचना शुरू हो गया। बवाल होता देख ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी ने थाना प्रभारी को सूचना दी। मौके पर पहुंचकर महिला पुलिस सहित अन्य दो पुलिस जवानों ने भीड़ को समझाइश देकर हालात काबू में किए।

तीसरी लहर के डर से वैक्सीन के लिए लगी होड़

ग्रामीण क्षेत्रों में अफवाहों पर अब टीकाकरण भारी पड़ने लगा है। इसी के कारण गांवों में लोग बड़ी संख्या में टीका लगवाने घरों से निकलने लगे हैं। स्थिति यह है कि करैरा नगर सहित आदर्श ग्राम सिरसौद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित अन्य स्थानों पर पर दूसरे डोज के लिए बुधवार कोविड-19 के टीकाकरण किया जाना था। इसमें दूसरे डोज और पहले डोज लगवाने के लिए युवाओं सहित 45 उम्र से अधिक टीकाकरण कराने के लिए सुबह 9 बजे से ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के बहार जमा होकर टीकाकरण टीम के आने का इंतजार में बैठ गए। एएनएम भगवती व डॉ संतकुमार शर्मा जैसे ही अस्पताल पर पहुंचे तो अस्पताल पर जमा सैकड़ों की तादाद में लोगों अपने नंबर इंतजार कर रहे थे। ग्रामीणों का कहना है कि तीसरी लहर में वैक्सीन ही बचाव है। इसलिए हम वैक्सीन लगवाना जरूरी है।

व्यवस्था नहीं संभल रही

दूसरे डोज के लिए सिर्फ 100 डोज आए थे जो आधे घंटे में ही खत्म हो गए, इसलिए लोग अंदर आकर अभद्रता करने लगे। स्थिति यह थी कि पुलिस फोर्स से भी व्यवस्था नहीं संभल पा रही थी। अचानक लोग ज्यादा संख्या में आने लगे हैं। -डॉ. संच कुमार शर्मा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिरसौद

खबरें और भी हैं...