पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने सौंपा ज्ञापन:कोचिंग संस्थानों को बंद नहीं कराया तो 12 जुलाई से हम भी खोलेंगे अपने सभी स्कूल

करैराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन करैरा बैराड़ द्वारा नगर में बिना अनुमति चल रहे कोचिंग संस्थानों को बंद करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम रवि गुप्ता को ज्ञापन दिया। प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन अध्यक्ष श्याम सिंह सोलंकी ने बताया कि नगर में अवैध रूप से चल रहे कोचिंग संस्थानों में बिना कोरोना गाइड लाईन के छोटे-छोटे कमरों में बच्चों को जानवरों की तरह बैठा कर पढ़ाया जा रहा है, जो की बच्चों की जान के साथ खिलवाड़ है।

गली, मोहल्लों एवं छोटी से छोटी गली में कोचिंग संचालित हो रही है। जबकि अशासकीय स्कूलों के मापदंड के अनुसार सारी सुविधाएं व व्यवस्थाएं होती हैं। इसलिए अशासकीय स्कूल खोलने की अनुमति दी जाए अन्यथा कोचिंग संस्थानों को बंद नहीं कराया गया। तो हम अशासकीय स्कूल एसोसिएशन भी 12 जुलाई से अपने सभी स्कूलों को खोलेंगे।

आरटीई का कराया जाए भुगतान

उसकी पूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। साथ ही प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन प्रशासन से यह मांग करता है की प्राइवेट स्कूलों को सत्र 2018-19 से आरटीई का भुगतान कराया जाए। ज्ञापन देने वालों में प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन करैरा के अध्यक्ष श्याम सिंह सोलंकी, डॉ.बृजेश अग्रवाल, भूपेंद्र भार्गव, जगदीश कुशवाह, विष्णु सोनी, मुकेश शर्मा, माधव सिंह पाल, सुनील श्रीवास्तव, ज्ञान सिंह सेंगर, महेश लोधी, विनय गुप्ता, मोनू श्रीवास्तव, धर्मेंद्र भार्गव मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...