पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आयोजन:भाई दौज पर किया कलम-दवात का पूजन, चित्रगुप्त मंदिर में हुआ आयोजन

लहारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा जाता है कि भीष्म पितामह ने पुलस्त्य मुनि से पूछा कि संसार में कायस्थ किस वंश से उत्पन्न हुए

लहार नगर के कायस्थ समाज द्वारा बुधवार को नगर के चित्रगुप्त मंदिर में यमराज के सचिव चित्रगुप्त की पूजा-अर्चना धूमधाम से की। इस मौके पर समाज के लोगों ने मंदिर में सामूहिक रूप से कलम दवात की पूजा की। कार्यक्रम के दौरान समाज के वरिष्ठजन डीके श्रीवास्तव ने बताया कि कायस्थ कुल में जन्म लेने वाला हर व्यक्ति यह पूजा करता है। इस अवसर पर कलम दवात की पूजा की जाती है। कहा कि भगवान चित्रगुप्त ने हथियार के रूप में कायस्थ को कलम दी है।, जिसकी पूजा हर कायस्थ यम द्वितीय के रूप में करता है। ब्रह्मा की काया से उत्पन्न भगवान चित्रगुप्त पाप-पुण्य का लेखा जोखा रखते हैं।

कहा जाता है कि भीष्म पितामह ने पुलस्त्य मुनि से पूछा कि संसार में कायस्थ किस वंश से उत्पन्न हुए हैं। तो मुनि ने उत्तर दिया कि उस ब्रह्मा के शरीर से बड़ी भुजाओं वाले श्याम वर्ण, तुल्य गर्द, चक्रवात तेजस्वी, अति बुद्धिमान हाथ में पुष्प नीचे से ऊपर ब्रह्मा की समाधि एवं ब्रह्मा की काया से उत्पन्न एक देवता स्वरूप व्यक्ति को कायस्थ कहते हैं। भगवान चित्रगुप्त को धर्मराज ने जीव के शुभ अशुभ कार्यों का लेखा जोखा रखने की जिम्मेवारी दी थी। मेहगांव, गोहद, गोरमी, मौ, अटेर में कायस्थ समाज द्वारा भगवान चित्रगुप्त की पूजा-अर्चना की गई। वहीं मंदिरों में भगवान चित्रगुप्त की आरती की गई। देर शाम तक मंदिरों में भजन संध्या कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस मौके पर श्यामबाबू, संजय खरे, प्रताप नारायण,कृष्ण बाबू, सर्वेश, विजय श्रीवास्तव, प्रेम बाबू सक्सेना, मनोज श्रीवास्तव, मुन्ना लाल, सुधीर,अनिल सक्सेना, ईश्वर चंद्र सक्सेना,जितेंद्र श्रीवास्तव, संजय श्रीवास्तव, गिर्जाशंकर, अचल समाधिया आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें