पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अजब-गजब:सुमावली कांग्रेस प्रत्याशी पर 10 एफआईआर, इनमें जमीनी धोखाधड़ी के 6 केस

मुरैना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो
  • अजब सिंह पर 10 एफआईआर, अंबाह से सत्यप्रकाश-निर्दलीय अभिनव छारी, मुरैना से निर्दलीय राजीव शर्मा ने भी भरा नामांकन

उपचुनाव-2020 के लिए जिले की 5 विधानसभा सीटों पर नामांकन दाखिल करने की प्रकिया जारी है। बुधवार को सुमावली से भाजपा प्रत्याशी अजब सिंह कुशवाह को बागचीनी में हुई सभा में कमलनाथ ने समाजसेवी कहा था-लेकिन सभा के बाद जब अजब सिंह ने अपना नामांकन दाखिल किया तो पता चला कि उनके ऊपर छोटे-बड़े कुल 10 केस दर्ज हैं। इनमें से एक हत्या के प्रयास का तथा एक अन्य है। वहीं शेष 8 केस जमीनी धोखाधड़ी से संबंधित 420 धारा के हैं। हालांकि इनके मुकाबले चुनाव लड़ रहे पीएचई मंत्री ऐदल सिंह कंषाना के ऊपर भी थाना सिविल लाइन में शासकीय कार्य में बाधा का केस दर्ज है।

अंबाह से निर्दलीय प्रत्याशी अभिनव के पास लाखों की संपत्ति
अंबाह से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे अभिनव उर्फ मोँटी छारी के पास एक करोड़ से अधिक की संपत्ति है। खुद प्रत्याशी के पास 49.70 लाख तथा उनके आश्रित पिता के पास 7 लाख 92 हजार से अधिक की प्रॉपर्टी है। इसी प्रकार अंबाह से ही कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी सत्यप्रकाश के पास 1.70 लाख की नकदी व बैंक-बैलेंस है जबकि उनकी पत्नी के पास 6.60 लाख रुपए की संपत्ति है।

अधिकांश प्रत्याशी पर भी पिस्टल-बंदूक
मुरैना की 5 सीटों पर उपचुनाव लड़ रहे हर प्रत्याशी के पास लाइसेंसी हथियार हैं। इसमें अंबाह से कांग्रेस के प्रत्याशी सत्यप्रकाश भी पीछे नहीं हैं। उनके पास एक 315 बोर की बंदूक व एक रिवाल्वर हैं। इसी प्रकार मुरैना विस से निर्दलीय चुनाव लड़ राजीव शर्मा के पास भी एक रिवाल्वर व एक रायफल है।

अजब सिंह पर 10 केस, अधिकांश जमीनी धोखाधड़ी के
बुधवार को कलेक्टोरेट में नामांकन दाखिल करने वाले सुमावली से कांग्रेस प्रत्याशी अजब सिंह कुशवाह ने अपने हलफनामे में बताया कि उनके ऊपर कुल 10 केस दर्ज हैं। इनमें वर्ष 2018 में बहोड़ापुर थाने में दर्ज 307 व 2008 में जौरा में दर्ज अन्य केस के अलावा शेष सभी केश धोखाधड़ी के हैं। अजब सिंह के हलफनामे के अनुसार महाराजपुर थाने में वर्ष 2020, 2017, 2014 (3 केस) दर्ज हैं। वहीं जौरा थाने में बिजली चोरी सहित धारा 118 का प्रकरण भी पंजीबद्ध है। कुल मिलाकर अजब सिंह पर जमीनी खरीद-फरोख्त में धोखाधड़ी से संबंधित जो केस दर्ज हैं, वे सभी न्यायालय में विचाराधीन हैं।

खबरें और भी हैं...