मध्य प्रदेश के कपड़ा व्यापारी का अजीब शौक:घर की छत पर जमा किया 8 ट्रॉली कचरा; पड़ोसियों ने कलेक्टर से शिकायत की, निगम ने JCB लगाकर हटाया

मुरैना6 महीने पहले

किसी को रुपए तो किसी को एंटीक चीजें जोड़ने का शौक होता है, लेकिन मध्य प्रदेश के मुरैना में एक शख्स कचरा इकट्ठा करने का शौकीन है। निगम की टीम ने उसके मकान की छत से 8 ट्रॉली कचरा निकला। व्यापारी ने यह कचरा सालों से जमा कर रखा था। वह सफाई नहीं करने देता था। पड़ोसियों ने जनसुनवाई में कलेक्टर से इस बात की शिकायत की, तब निगमायुक्त को सफाई कराने का आदेश जारी हुआ।

निगम के अमले ने बुधवार को सफाई की तो लोग कचरा देखकर हैरान रह गए। कचरा इतना था कि पूरी गली ही पट गई। निगम को JCB लगाकर कचरा साफ कराना पड़ा।

मुरैना के सिकरवारी मार्केट में कपड़ा व्यापारी योगेश गुप्ता रहते हैं। उन्होंने अपने मकान की छत पर ड्रमों, प्लास्टिक के डिब्बों और बोरियों में कचरा भरकर रखा था। उनके कचरा इकट्‌ठा करने के शौक से घरवाले भी परेशान थे। सभी ने उन्हें समझाया कि कचरे को साफ करवा दें, लेकिन वह मानने को तैयार ही नहीं थे। बारिश में कचरे से और भी बदबू उठती थी। पड़ोसी भी कचरा साफ कराने की रिक्वेस्ट करते रहे, लेकिन योगेश ने किसी की नहीं सुनी। आखिरकार पड़ोसियों ने जनसुनवाई में कलेक्टर से शिकायत की।

छत से इतना कचरा निकला कि गली को साफ कराने के लिए JCB मंगानी पड़ी।
छत से इतना कचरा निकला कि गली को साफ कराने के लिए JCB मंगानी पड़ी।

पूरे शहर में फैल गई कचरा सफाई की बात

कलेक्टर बक्की कार्तिकेयन ने निगमायुक्त संजीव जैन को कचरा साफ कराने के आदेश दिए। बुधवार को निगम का अमला योगेश गुप्ता के घर पर पहुंच गया। जब अमले ने छत पर से कचरा गली में पटकना शुरू किया तो पूरी गली कचरे से भर गई। इतनी अधिक मात्रा में कचरा देखकर आस-पास के काफी लोग एकत्रित हो गए। धीरे-धीरे यह बात पूरे शहर में फैल गई और वहां मौजूद कुछ लोगों ने इसका VIDEO भी बना लिया। कचरा हटाने के लिए निगम अमले को JCB मंगानी पड़ी।

कचरे में नींबू के छिलके, कपड़ों की कतरनें
योगेश के घर की छत से 4-5 ड्रम निचोड़े हुए नींबू के सड़े छिलके, दो क्विंटल से ज्यादा गंदी पॉलिथिन, कई क्विंटल कपड़ों की करतनें मिली हैं।

पड़ोसियों ने जनसुनवाई में कलेक्टर से शिकायत की, जिसके बाद सफाई कराई गई।
पड़ोसियों ने जनसुनवाई में कलेक्टर से शिकायत की, जिसके बाद सफाई कराई गई।
खबरें और भी हैं...