राजनीति:वोट बैंक साधने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष आज दलित के घर करेंगे भोजन

मुरैना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ मंडल, बूथ अध्यक्षों, मीडिया वॉरियर्स से करेंगे मुलाकात

2 अप्रैल 2018 को हुए उपद्रव के बाद भाजपा के हाथ से खिसके वोट बैंक को साधने के लिए अब भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता भी मैदान में कूद गए हैं। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ यूं तो रविवार को मुरैना निकाय चुनाव की तैयारियों को लेकर वरिष्ठ कार्यकर्ताओं, मंडल व बूथ अध्यक्षाें के साथ बैठक लेंगे। वहीं सोशल मीडिया वॉरियर्स को भी संबोधित करेंगे। लेकिन उनका सबसे अहम मकसद है दलित वोटबैंक को साधना। इसके लिए वे उत्तमपुरा (गोटेनगर) में रहने वाले अजा वर्ग के कार्यकर्ता रामवीर निगम के घर दोपहर का भोजन भी करेंगे।

54 हजार दलित वोट बैंक, इसलिए कवायद
आगामी नगरीय निकाय चुनावों को देखते हुए भाजपा अपनी तैयारियों में जुट गई है। यूं तो अजा वोट बैंक हर निकाय में निर्णायक है। लेकिन 2.50 लाख की वोटिंग वाली मुरैना नगर निगम में 54 हजार वोटर्स अजा वर्ग का है। इसलिए केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ खुद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा दलित वर्ग के कार्यकर्ता के घर भोजन कर नब्ज टटोलेंगे कि दलित वोट बैंक का निकाय चुनाव में क्या रुख होगा।

2 अप्रैल के बाद दलित वोटर्स ने भाजपा को ठुकराया, नतीजा...विस चुनाव व उपचुनाव में मिली हार
2 अप्रैल 2018 को हुए उपद्रव के बाद अनुसूचित जाति वर्ग का वोटर भाजपा से इस कदर नाराज है कि 2018 में हुए विधानसभा उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जिले की छह की छह सीटें गंवानी पड़ी थी। हालांकि नवंबर 2018 में सरकार गिरने के बाद 2019 में हुए उपचुनाव में भी जिले की 5 सीटों में से दिमनी, मुरैना, सुमावली पर भाजपा को दलित वोट बैंक नहीं मिलने की वजह से मुंह की खानी पड़ी।

खबरें और भी हैं...