पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला ने की सुसाइड:एक दिन पहले ही मायके से आई थी, फांसी से झूली; आत्महत्या की वजह अब तक पता नहीं

मुरैैना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एक दिन पहले महिला अपने मायके से आई। घर में सब कुछ अच्छा चल रहा था। किसी ने शक भी नहीं किया। दूसरे दिन महिला ने छत में लगे कुंदे में फांसी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। ससुराल वाले फांसी लगाने का कारण भी नहीं बता पा रहे हैं। सुसाइड नोट नहीं होने की वजह से आत्महत्या की असली वजह भी पुलिस पता नहीं कर पाई है।

यहां बता दें, कि अंबाह तहसील के अमरीष का पुरा गांव में ममता पत्नी सुभाष सखवार, उम्र 35 वर्ष ने फांसी लगाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। सूचनाकर्ता सोनू सखवार पुत्र मनोज सखवार ने पुलिस को बताया कि शाम साढ़े सात बजे की बात है। वह अपने दरवाजे पर बैठा था। उसी समय उसके चाचा सुभाष सखवार का लड़का विपिन के रोने की आवाज आई। वह दौड़कर चाचा के मकान में गया। वहां देखा तो उसकी चाची ममता छत के कुंदे से लटकी हुई थीं। उसने तुरंत अन्य लोगों के साथ मिलकर उनकी लाश को नीचे उतारा और उसके बाद उसके बाद पुलिस को खबर कर दी।

पीएम हाउस के बाहर बैठे परिजन
पीएम हाउस के बाहर बैठे परिजन

नहीं मिला सुसाइड नोट
बताया जाता है कि मौके पर पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। लिहाजा मामले की जांच बारीकी से की जा रही है। पुलिस के अनुसार प्रथम द्रष्टया यह मामला आत्म हत्या का लगता है। लिहाजा पुलिस ने इस मामले में मर्ग कामय कर लिया है।
दो बच्चों को छोड़ गई ममता
यहां बता दें, कि मृतका ममता की शादी सुभाष शर्मा से वर्ष 2005 में हुई थी। शादी के बाद उसके दो लड़के हुए। वर्तमान में बड़ा लड़का विपन 14 वर्ष का है तथा छोटा बेटा गौरव अभी 6 वर्ष का ही है। मृतका का मायका गोरमी थाना के कोट जिलेदार सिंह का पुरा में है।

खबरें और भी हैं...