पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परिवहन विभाग:आरटीओ दफ्तर में कर्मचारियों ने नहीं किया काम, लाइसेंस, परमिट के लिए लोग परेशान

मुरैना4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारियों पर केस दर्ज होने व काम के दबाव को लेकर हड़ताल पर रहे कर्मचारी
  • परिवहन विभाग के कर्मचारी बोले- सरकार को बरतनी होगी ढिलाई

कोविड काल में काम के दबाव से जूझ रहे परिवहन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी इस बात को लेकर आहत हैं कि सरकार रियायत के बजाय उनके ऊपर सख्ती बरत रही है। कहीं भी कोई हादसा होता है तो विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को तत्काल निलंबित कर एफआईआर तक दर्ज की जा रही हैं। यह हमारे साथ सरासर अन्याय है। इसके विरोध में बुधवार को परिवहन विभाग के दफ्तर में अधिकारी-कर्मचारी काम बंद हड़ताल पर रहे। इसकी वजह से आरटीओ की विभिन्न शाखाओं में सन्नाटा पसरा रहा और भिंड, श्योपुर सहित मुरैना से लाइसेंस बनवाने, बसों के परमिट बनवाने सहित फिटनेस प्रमाण पत्र आदि बनवाने के लिए आए लोग इधर से उधर भटकते रहे।

सरकार ने किया पुरानी मांगों को अनदेखा: रघुवंशी
परिवहन अधिकारी संगठन के जिला अध्यक्ष जितेंद्र सिंह रघुवंशी ने बताया कि कोविड-19 से 20 और 20 से 21 में विषम परिस्थिति होते हुए भी वित्तीय वर्ष का लक्ष्य की पूर्ति की गई है। इसके बाद भी अधिकारियों ने शासन के आदेश और परिवहन विभाग के अधिनियम और नियमों को दरकिनार करते हुए विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज कर दिए गए। जबकि शासन के आदेश है कि बिना जांच के किसी भी लोकसेवक पर प्रकरण दर्ज नहीं किया जा सकता है। परिवहन अधिकारियों द्वारा किए गए कार्य अर्ध न्यायिक प्रवृति के होते है। जिसे देखते हुए संरक्षण की मांग की गई थी। उस पर भी कोई विचार नहीं किया गया।

आदेश की अवहेलना पर प्राथमिकी दर्ज करना गलत

हड़ताल कर रहे परिवहन विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि जिला परिवहन अधिकारी टीकमगढ़, रायसेन और सेवानिवृत उप परिवहन आयुक्त के खिलाफ अधिनियमों और शासन के आदेश की अव्हेलना करते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसका परिवहन अधिकारी और कर्मचारी संघ विरोध करता है। यह हड़ताल का तात्कालीन कारण भी है। इसके अलावा अन्य मांगों में परिवहन कार्यालय में कार्यालयीन स्टॉफ की कमी है। कार्य की अधिकता के कारण अधिकारी और कर्मचारी पर मानसिक दबाव रहता है।

वहीं जब भी कोई भी यात्री वाहन हादसाग्रस्त होता है, तो बिना जांच के जिला परिवहन अधिकारी को निलंबित कर दिया जाता है। परिवहन विभाग में आरक्षक से लेकर संभागीय उप परिवहन आयुक्त के पदों में अन्य विभागों की तुलना में काफी वेतन विसंगतियां है। कार्यालयीन स्टाफ ने वर्दी की मांग की थी, जो आश्वासन देकर ही समाप्त कर दी गई। इसके अलावा सरकार के स्तर पर अन्य कई मांगों का निराकरण नहीं हो रहा है।

आरटीओ में इन कामकाज के लिए भटकते दिखे लोग
शहर के पांच किलोमीटर दूर स्थित चंबल संभाग के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में मुरैना जिले के अलावा भिंड व श्योपुर जिले के लोग भी कामकाज के लिए आते हैं। बुधवार को परिवहन कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस, फिटनेस सर्टिफिकेट, परमिट व वाहनों के पंजीयन जैसे कार्य के लिए भटकते नजर आए। इसके अलावा कम्प्यूटर शाखा भी बंद रहने के कारण वाहन मालिक कामकाज के लिए परेशान होते रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें