पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पॉली क्लीनिक का अवलोकन:भदावरी नस्ल की भैंस पालन से आर्थिक उन्नत हो सकेंगे किसान

मुरैना3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

झांसी से आए वैज्ञानिक दल ने बुधवार को कृषि विज्ञान केंद्र का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने कृषि अनुसंधान केंद्र में बने पॉली क्लीनिक का अवलोकन किया तथा भदावरी नस्ल की भैंसों के सरंक्षण पर जोर दिया।

वैज्ञानिक डॉ. एसपी सिंह ने वैज्ञानिक दल को बताया कि मुरैना जिले में भदावरी संरक्षण कार्यक्रम चल रहा है। जिसके तहत भदावरी नस्ल की भैंस को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस नस्ल की भैंस मूल रूप से इटावा, भिंड, आगरा एवं मुरैना जिले में पाई जाती है। यह नस्ल अधिक घी उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। शैक्षणिक भ्रमण करने वाले वैज्ञानिकों में डॉ. बीपी कुशवाह, डॉ. दीपक उपाध्याय, पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. ब्रजमोहन शर्मा, डॉ. दिनेश यादव, डॉ. अंकित यादव आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...