पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खेती किसानी:सरसों, शहद, आलू और अमरूद के उत्पाद तैयार करेंगे किसान, आय में होगा इजाफा

मुरैनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उद्यानिकी से जुड़े किसानों की आय बढ़ाने के लिए उन्हें आधुनिक तकनीक से फसल उत्पादन लेने व सरसों, शहद, आलू व अमरूद के उत्पाद तैयार करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए सेंथरा अहीर पाेरसा में 30 लाख की लागत से किसान प्रशिक्षण केन्द्र बनवाया जा रहा है। इस अभिनव पहल के जरिए किसान अपनी आमदनी में इजाफा कर सकेंगे।

मुरैना जिले में डेढ़ लाख हैक्टेयर क्षेत्रफल में सरसों का बंपर उत्पादन हाे रहा है। उन्नत बीज से उपजाई सरसों में 40 प्रतिशत तक तेल की मात्रा मिल रही है। इसलिए उद्यानिकी विभाग सरसों उत्पादक किसानों को तेल उत्पादन की छोटी-छाेटी इकाईयां संचालित करने के लिए तैयार करेगा।

ऐसे किसानों को ऑइल मिल स्थापित करने के लिए 30 लाख रुपए लागत के प्लांट लगाने के लिए बैंकों से पैसा मंजूर कराया जाएगा। इसमें अधिकतम 10 लाख रुपए का अनुदान दिए जाने का प्रावधान है। इस वर्ष 10 किसानों के लिए 10 ऑइल मिल लगाने के प्रकरण स्वीकृत कर बैंकों को भेजे हैं।

खबरें और भी हैं...