पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Morena
  • Flowmeter Of 800 Rupees And Pulse Oximeter Of 400 Rupees For 5 Thousand Rupees, Feviflu oxygen Cylinders Are Also Not Available

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना में कालाबाजारी:800 रुपए का फ्लोमीटर और 400 रु का पल्स ऑक्सीमीटर 5 हजार रु में, फेवीफ्लू-ऑक्सीजन सिलेंडर भी नहीं मिल रहे

मुरैना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल के बाहर स्थित मेडिकल स्टोर पर दवाइयों के लिए कतार में खड़े लोग। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल के बाहर स्थित मेडिकल स्टोर पर दवाइयों के लिए कतार में खड़े लोग।
  • मेडिकल स्टोर संचालक-एंबुलेंस के ड्राइवरों ने आपदा को बनाया अवसर, जरूरतमंदों पर महंगाई की मार
  • थर्मल गन-निबोलाइजर तो छोड़िए एजीथ्रोमाइसिन, लिम्सी-जिंकोबिट जैसी दवाईयां भी मार्केट से गायब

कोरोना संक्रमितों के सामने सिर्फ जिला अस्पताल में इलाज व ऑक्सीजन युक्त बेड का संकट नहीं है। अस्पताल के कोविड वार्ड में जगह न मिलने पर रिपोर्ट आने से पहले सामान्य वार्डों में भर्ती हो रहे कोविड संदिग्ध मरीजों के परिजन जैसे-तैसे दोगुने-तीन गुना दामों में ऑक्सीजन सिलेंडर का इंतजाम कर रहे हैं तो उनके सामने दूसरा बड़ा संकट सिलेंडर में उपयोग होने वाला फ्लो मीटर व मास्क का है।

पूरे जिले में कहीं भी फ्लो मीटर व मास्क उपलब्ध नहीं है। हालत यह है कि 800 रुपए कीमत का फलोमीटर व मास्क निजी एंबुलेंस के ड्राइवर 2 से 5 हजार रुपए में ब्लैक कर रहे हैं। इसी प्रकार शहर के मेडिकल स्टोर पर पल्स ऑक्सीमीटर, थर्मल गन व नीबोलाइजर मशीन भी नहीं मिल रही है। जिन लोगों के पास यह मेडिकल मटेरियल उपलब्ध है, वे इसे 2500 से 5 हजार रुपए यानि 100 गुना महंगे दाम पर बेच रहे हैं।

इन 2 उदाहरण से समझिए लोगों की परेशानी
1. शहर के गोपालपुरा में रहने वाले मोनू दीक्षित ने अपने रिश्तेदार को मेडिकल वार्ड में भर्ती कराया। चूंकि डॅक्टर ने ऑक्सीजन सिलेंडर होने से मना कर दिया। ऐसे में उन्होंने एक एंबुलेंस चालक को 800 रुपए देकर उसका सिलेंडर ले लिया। लेकिन उनके सामने फ्लोमीटर व मास्क का संकट खड़ा हो गया। जिला अस्पताल में डॉक्टर से लेकर पैरामेडिकल स्टाफ तक उन्होंने खूब हाथ-पैर जोड़े, मिन्नतें की लेकिन उन्हें किसी ने फ्लोमीटर मास्क उपलब्ध नहीं कराया। ऐसे में एक निजी एंबुलेंस संचालक ने अपनी वैन का फ्लोमीटर व मास्क 1200 रुपए में दिया।
2. मार्च महीने में पल्स ऑक्सीमीटर मेडिकल स्टोर पर 400 से 600 रुपए में उपलब्ध थे। गणेशपुरा मे रहने वाले अनिल शर्मा शहर के मेडिकल स्टोर पर जब पल्स ऑक्सीमीटर तलाशने पहुंचे तो अधिकांश स्टोर संचालकों ने स्टॉक न होने की बात कही। कुछ स्टोर संचालकों ने कहा कि मिल जाएगा, 3200 रुपए का पड़ेगा, कहो तो ग्वालियर से मंगवा दें। इस पर उन्होंने जब ऑनलाइन चेक किया तो वहां भी इसकी कीमत 3 हजार रुपए थी। थक-हारकर उन्होंने महंगा पल्स ऑक्सीमीटर खरीदा।

लोग बोले- फेवीफ्लू व निजी दुकानदारों के ऑक्सीजन सिलेंडर होल्ड कराए
शहर में इन दिनों फेवीफ्लू टेबलेट की भी दिक्कत है। लोगों ने बताया कि मेडिकल स्टोर संचालकों का कहना है कि इस दवाई का स्टॉक ड्रग इंस्पेक्टर ने कलेक्टर के निर्देश पर होल्ड करा दिया है यानि अपने अंडर में ले लिया है। अब लोग इस दवाई के लिए भटक रहे हैं। उन्हें 1200 रुपए पत्ता ग्वालियर से 5200 में लाना पड़ रहा है। जबकि ग्वालियर में जिस तरह से रेमडेसिविर कलेक्टोरेट से बांटे जा रहे हैं, उसी प्रकार फेवीफ्लू टेबलेट के लिए भी सरकारी नियंत्रण में स्टॉल लगाकर वितरण कराना चाहिए। इसी प्रकार निजी दुकानदारों के ऑक्सीजन सिलेंडर अफसरों ने अधिग्रहण में ले लिए। अब लोगों के सामने खाली सिलेंडरों का भी संकट है। लोगों का कहना है कि अफसरों ने जो सिलेंडर मार्केट से उठवाए हैं, वह आमजन को कैसे उपलब्ध हो सकेंगे, इसके लिए कोई जानकारी देने वाला नहीं है।

एक नजर में जानिए कौनसी दवाईयां हो रही है ब्लैक

  • हाइड्रोकोर्टीसोन इंजेक्शन: हाई एंटीबायोटिक है, कोरोनो संकमित मरीजों को गले में इंफेक्शन होने पर दिया जाता है। 41 रुपए कीमत का इंजेक्शन 60 से 100 रुपए तक में बिक रहा है।
  • क्लिन्डामाइसिन 300: कोरोना संक्रमित मरीजों को दिया जाता है। 300 रुपए की स्ट्रिप 350 से 400 रुपए में बेची जा रही है।
  • नेरोपेनम इंजेक्शन: फेफड़ों के संक्रमण में सुबह-दोपहर-शाम तीन डोज इस इंजेक्शन के मरीज को दिए जाते हैं। हॉस्पिटल में उपलब्ध नहीं हैं।

नोट: इसके अलावा विटामिन सी की टेबलेट लिम्सी, जिंकोबिट मार्केट से गायब है।

रिकमंडेशन पर दे रहे हैं फेवीफ्लू
^जिला अस्पताल में भर्ती ऐसे मरीज, जिन्हें डॉक्टर फेवीफलू लिख रहे हैं, उन्हें सिविल सर्जन की रिकमंडेशन पर यह दवा उपलब्ध कराई जा रही है। बाजार में जिन दवाईयों की कमी है, उनके लिए शासन स्तर पर पत्र भेजा है। जो उपकरण ब्लैक हो रहे हैं, उनकी सूचना लोग हम तक पहुचाएं, हम कर्रवाई करेंगे।
देशराज सिंह, ड्रगइंस्पेक्टर मुरैना

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें