पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मौत की दर्द भरी दास्ता:जिसके साथ शराब पी, उसकी मौत हुई तो दिल दहल गया

मुरैना13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर के जेएएच में भर्ती बीमारों का हालचाल पूछते चंबल आईजी मनोज शर्मा। - Dainik Bhaskar
ग्वालियर के जेएएच में भर्ती बीमारों का हालचाल पूछते चंबल आईजी मनोज शर्मा।
  • ग्वालियर में जिन मरीजों का चल रहा इलाज, उन्होंने भास्कर से साझा की शराब पीने के बाद की कहानी

जहरीली शराब की वजह से मुरैना के दो गांव- मानपुर और पहावली में हर तरफ मातम है। जहरीली शराब ने जिंदगियां लील लीं। किसी ने बेटा खोया तो किसी के सिर से पिता का साया छिन गया। श्मशान तक में जगह कम पड़ गई।

1. जिसके साथ शराब पी, उसकी मौत हुई तो दिल दहल गया: रमेश शाक्य (52) का कहना है कि रविवार को सुबह 8 बजे इंद्रमहेश और दीपेश ने रामवीर की दुकान से शराब का क्वार्टर खरीदा था। मैं उनके पास पहुंचा तो मुझे भी पीने के लिए कहा। दो माह से शराब नहीं पी थी। इसलिए मैंने भी थोड़ी सी शराब पी ली। तब कोई परेशानी नहीं हुई। सोमवार शाम को छोटे भाई प्रसादी (48) को उल्टी होने लगी।

बाद में पता चला कि उसने जीते के साथ रविवार सुबह 11 बजे शराब पी थी और जीते की मौत हो गई। हालत बिगड़ने पर प्रसादी को एंबुलेंस से मुरैना लेकर पहुंचा। वहां से उसे ग्वालियर रैफर कर दिया। अब मैं भी घबराया। मंगलवार सुबह 6 बजे से मुझे भी उल्टी होने लगी और दिखना कम हो गया। चूंकि मैं, अस्पताल के बाहर ही था। इसलिए भी मुझे भी भर्ती कर दिया गया।

2. दो साथियों की मौत की सूचना लगी तो मेरे घबराने पर ग्वालियर रैफर किया: राजकुमार किरार (43) ने बताया कि रविवार को रामवीर की दुकान से चार बजे के लगभग शराब खरीदकर मैंने, ध्रुव, जीते और कमल किशोर ने पार्टी की। सोमवार को सुबह से उल्टी, चक्कर और रोशनी कम होने की समस्या के कारण मुरैना अस्पताल में भर्ती हुआ। बाद में बता चला कि जीते और कमल किशोर की मौत हो गई। मेरी हालत में सुधार नहीं होने पर ग्वालियर रैफर कर दिया।

3. आंखों की राेशनी कम हुई तो लगा कि अब जान नहीं बचेगी: मुकेश किरार (35) ने बताया कि मैं शराब बहुत कम पीता हूं। रविवार को शाम साढ़े पांच बजे के लगभग चचेरे भाई रामकुमार और समधी जीवाराम ने जिद की तो थोड़ी सी पी ली। सोमवार को तबीयत खराब हुई तो मुरैना में भर्ती किया और अगले दिन ग्वालियर रैफर कर दिया गया। आंखों की रोशनी कम होने से डर लग रहा है। लग रहा था कि अब जान नहीं बचेगी। रामकुमार और जीवाराम की शराब पीने से मौत की खबर मिली, तब से बहुत घबराहट हो रही है।

4. मैं भी शराब पीकर सोया था, बड़े भाई ने जहरीली शराब से मौतों की बात बताई तो घबरा गया: वीरेंद्र शाक्य (40) का कहना है कि दो दिन पहले रामवीर की दुकान से शराब खरीदी थी। सोमवार को भी शराब पीने का मन किया तो फिर से एक क्वार्टर खरीदा और पीने के बाद शाम को 6 बजे घर पहुंच गया। खाना खाने के बाद नींद लग गई। थोड़ी देर बाद बड़े भाई वीरेंद्र घर आए और बताया कि जहरीली शराब पीने से गांव में मौत हो गई है। मुझसे शराब पीने के बारे में पूछा तो मैं घबरा गया और शराब पीने की बात छुपा ली। बाद में उल्टियां होने लगी और दिखने कम लगा तो परिजन मुरैना ले गए। मंगलवार को वहां से ग्वालियर रैफर कर दिया गया।

शराब पीकर सोया तो रात में दिक्कत नहीं हुई लेकिन अगले दिन दिखना कम होने लगा

सुनील शाक्य (32) का कहना है कि रविवार शाम को आठ बजे रामवीर की दुकान से शराब का एक क्वार्टर खरीदा और सीधे घर पहुंचा। शराब पीने के बाद खाना खाकर सो गया। अगले दिन से उल्टियां होने लगीं और दिखने में परेशानी हुई। डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाया तो कुछ देर आराम मिला, बाद में फिर से उल्टी होने लगीं। किराए की गाड़ी कर मुरैना अस्पताल पहुंचा, जहां से ग्वालियर रैफर कर दिया। अभी भी देखने में समस्या और छाती में दर्द है।

ग्रामीणों की मांग पर शराब की दुकान बंद कराई, अस्थाई चौकी भी खोली

ग्रामीणों के परिजन की मांग पर दतिया से आईं प्रभारी जिला आबकारी अधिकारी निधि जैन, एडीओ एनके पारिक व दतिया से आए सब इंस्पेक्टर अनिरुद्ध खानबिलकर सीधे छैरा गांव में पहुंचे। यहां स्थित सरकारी देशी शराब की दुकान में भरे सामान को भरवाकर दुकान बंद करने के आदेश जारी कर दिए। वहीं छैरा के ही आंगनबाड़ी भवन पर अस्थाई चौकी खुलवाई।

ढीलपोल: 7 में से 2 आरोपी ही गिरफ्तार, वजह- यह खुद जहरीली शराब पीकर अस्पताल पहुंचे

इस मामले में बागचीनी थाने में दर्ज हुई एफआईआर में जिन 7 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया था। उनमें से 2 आरोपी रनवीर (55) पुत्र उद्धव राठौर मानपुर तथा बृजकिशोर शर्मा (59) पुत्र मातादीन शर्मा ही पुलिस की गिरफ्त में हैं।

यह आरोपी भी इसलिए पुलिस के हत्थे चढ़े क्योंकि इन्होंने खुद जहरीली शराब का सेवन कर लिया था और तबियत खराब होने पर खुद ही जिला अस्पताल में भर्ती होने पहुंच गए। इनमें से बृजकिशोर जिला अस्पताल के कैदी वार्ड तथा रामवीर राठौर ग्वालियर में इलाजरत है। शेष 5 आरोपी फरार हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser