• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Morena
  • If The Market Is Open Then The Crowd Broke Down To Shop, Neither Did The Mask, Nor Social Distance, This Negligence May Be Heavy

बाजार में भीड:बाजार खुला तो खरीदारी करने टूट पड़ी भीड़, न मास्क लगाया, न सोशल डिस्टेंस, ये लापरवाही पड़ सकती है भारी

अंबाह/पोरसा/ जौरा/सबलगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंबाह, पोरसा के बाजार खुलते ही दुकानों पर खरीदारी करने पहुंच गए लोग - Dainik Bhaskar
अंबाह, पोरसा के बाजार खुलते ही दुकानों पर खरीदारी करने पहुंच गए लोग
  • दो दिन के घोषित लॉकडाउन के बाद साेमवार को बाजार में उमडी लोगों की भीड़
  • अंबाह, पाेरसा, जौरा सहित जिले के कस्बों के बाजार में सोमवार को सख्ती न होने से उमड़ी भीड़

दो दिन के लॉकडाउन के बाद सोमवार को जब बाजार खुले तो लोग सबकुछ भूलकर खरीदारी करने बाजारों में टूट पड़े। इस दौरान न तो लोगों ने संक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाए न ही सोशल डिस्टेंस का पालन किया। जिम्मेदार अफसर भी दो दिन की सख्ती के बाद चुप हो गए। लोगों की यह लापरवाही उनके स्वयं के परिवार पर भारी पड़ सकती है। जानकारी के अनुसार सोमवार को बाजार खुलने के दौरान अंबाह, पोरसा, जौरा, कैलारस, सबलगढ़ के बाजारों में कोविड नियमों का उल्लंघन होता रहा। 60 घंटे के लॉकडाउन के बाद सोमवार को बाजार खुलते ही ग्राहकों की भीड़ के चलते जगह-जगह जाम लगा।

इस दौरान कोरोना से बचाव हेतु निर्धारित नियमों का पालन करने के लिए दुकानदार, ग्राहक और आमजन गंभीर नजर नहीं आये। सिविल अस्पताल के चिकित्सक डॉ. डीएस यादव के अनुसार कोविड-19 के आठ मरीजों का उपचार वर्तमान में घरों में चल रहा है। उसके बावजूद भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। ज्ञात रहे कि कोरोना महामारी के बीच इन दिनों सशर्त बाजार खोलने की छूट है। छूट के दौरान जनता कोरोना महामारी को भूल गई। लॉकडाउन के दौरान 2 दिन तक बाजार बंद रहे वहीं सोमवार को बाजार खुलते ही भीड़ उमड़ पड़ी।

भीड़ जुटने से बाजारों में बन गए ट्रैफिक जाम के हालात
बाजार खुलने पर सोमवार को अंबाह नगर पालिका चौराहे, पोरसा चौराहा, जयश्वर रोड़, सब्जीमंडी, गंज सहित अनेक जगह जाम लगता रहा। इस दौरान भीड़ में मौजूद लोगों में कोरोना को लेकर डर ही नहीं था। उधर जागरूक लोगों को चिंता हैं कि बाजार की यह भीड़ और नियमो का पालन न करना कहीं ज्यादा परेशानी खड़ी कर सकता है। वहीं ग्रामीणों को भी इस बीमारी का भय नही रहा। यही कारण हैं कि नियमों का पालन करने की बजाय लोग नियमों का सरेआम उल्लंघन कर खरीदारी करते रहे। खासतौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो बाजार में बिल्कुल भी नहीं किया जा रहा है।

शादी-विवाह की खरीदारी के कारण दुकानों पर लगी रही ग्राहकों की भीड़, व्यापारियों ने नहीं बनाए गोले

शादी-विवाहों की खरीदारी करने के लिए सोमवार को नगर में सदर बाजार, गंज, सब्जीमंडी, पोरसा चौराहा, नगर पालिका चौराहा, टॉकीज रोड पर ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी। कपड़ा दुकानों के साथ ही किराना दुकानों,सब्जी की दुकानों सहित अन्य दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया। इस मामले में न तो व्यापारी को कोई भय दिखा और न ही ग्राहक सतर्कता बरतना दिखा रहे। लोगों ने कहा कि निश्चित तौर पर यदि ऐसे ही हालात बने रहे तो कोरोना वायरस का संक्रमण नगर में बड़े स्तर पर फैल सकता हैं।

जबकि शासन द्वारा बाजार खोलने की शर्त में जिन नियमों का पालन जरूरी बताया गया है उससे गाइड लाइन के अनुसार प्रत्येक दुकानदार को सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखना है। इसके साथ ही ग्राहकों को निश्चित दूरी पर खड़ा करना और मास्क व सेनिटाइजर का उपयोग करना अनिवार्य हैं लेकिन व्यापारी यह सब भूल चुके हैं। नगर के सदर बाजार में हालात सबसे ज्यादा बिगड़े गए। यहाँ किराना दुकानों विवाहों के लिए सामान खरीदने वाले ग्राहकों की ज्यादा भीड़ उमड़ती रही। किंतु नियमों का पालन करना जनता ही नहीं व्यापारी भी भूल गए। सब्जी मंडी व अन्य बाजारों में सोमवार को भारी भीड़ रही। वाहनों में लोग मास्क नहीं लगाए हुए थे।

पोरसा व सबलगढ़ में सोशल डिटेंशन का नहीं रखा ध्यान
सोमवार को बाजार खुलते ही पोरसा सब्जी मंडी में विक्रेताओं व ग्राहकों ने कोरोना नियमों का पालन नहीं किया। न तो लोग मास्क लगाकर आए न व्यापारी सोशल डिस्टेंस बनाने का प्रयास करते रहे। सोमवार को लॉक डाउन के बाद पोरसा की सब्जी मंडी में जमकर सोशल डिटेंशन की धज्जियां उड़ाई गई। इस दौरान न तो प्रशासन ने सख्ती की न लोग स्वयं सावधान रहे। स्थानीय नागरिक रामसिंह ने कहा कि दो दिन बाद बाजार खुला है इसलिए जरूरी सामान खरीदने आए है। सबलगढ़ के बाजार में भी सोमवार को सुबह से ही दुकानों पर भीड़ हो गई। इस दौरान लोगों ने मास्क लगाने का ध्यान नहीं रखा।

कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन होगा खतरनाग
सरकार द्वारा जारी कोविड नियमों का लोगों को पालन करना चाहिए। यदि लोग बाजार में जाते समय मास्क नहीं लगाएंगे तो यह घातक है और बीमारी का संक्रमण फैल सकता है। इसलिए लोगों को नियमों का ध्यान रखना जरूरी है।
डॉ. डीएस यादव, सिविल अस्पताल

घर में शादी है, खरीदारी करना अति आवश्यक है
हमारे परिवार में 25 अप्रैल की बेटे की शादी है। शादी के लिए सामान खरीदना अति आवश्यक है। इसलिए बाजार आए। लेकिन बाजार में भीड़ अधिक है।

महेंद्र सिंह तोमर, अंबाह

खबरें और भी हैं...