पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संक्रमण:पिछले साल अप्रैल में शुरूआत के 5 दिन में मिले थे 12 संक्रमित, इस बार 48, आज फिर मिले 15 संक्रमित

मुरैना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • होम आइसोलेशन में लापरवाही से संक्रमित हों रहे परिजन, 50% मरीज बाहरी प्रांतों से आए

कोरोना का संक्रमण इस बार काफी तेजी से फैल रहा है। पिछले साल एक अप्रैल काे जिले में पहले दो मरीज मिले थे। इसके बाद 5 दिन में संक्रमितों की संख्या 12 तक पहुंच गया। लेकिन इस साल अप्रैल के 5 दिन में ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 48 पर पहुंच गई है। गंभीर बात यह है कि कोरोना संक्रमित जितने भी मरीज मिले हैं, उनमें से 50 प्रतिशत दूसरे प्रांतों से आए हैं। सोमवार को फिर जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या दहाई के पार पहुंच गई। 463 सैंपल की रिपोर्ट में 15 नए संक्रमित मिले।

गोले नहीं बनाए तो 24 घंटे के लिए बंद कर दी जाएगी दुकान
बाजार में संचालित दुकानदार मास्क नहीं लगाता है या उसकी दुकान के सामने गोले नहीं होंगी तो तत्काल उसकी दुकान 24 घंटे के लिये बंद कर दी जाएगी। इसके बाद अगली बार भी लापरवाही मिली तो दुकान 4 दिन के लिये सील कर दी जाएगी। तीसरी बार गलती पाए जाने पर पूरे सप्ताह दुकान नहीं खोल सकेंगे।

मास्क न लगाने पर 29 लोगों पर जुर्माना, रोज 2 घंटे हाेगी चेकिंग
एसीएस मलय श्रीवास्तव द्वारा लगाई गई फटकार के बाद जिला मुख्यालय पर रोको-टोको अभियान में सख्ती बरती गई। शहर के मुख्य बाजार में कर्मचारियों ने चेकिंग कर 29 लोगों पर मास्क न लगाने पर 2100 रुपए का जुर्माना वसूला। अंबाह, पोरसा, जौरा, कैलारस, सबलगढ़ में भी जुर्माने की कार्रवाई की गई। मास्क लगवाने के लिए 42 टीमें बनाई गई हैं। यह टीमें मुख्य बाजार में शाम 5 बजे से 7 बजे तक रोको-टोको अभियान चलाकर लोगों को जागरुक करेंगी। वहीं मास्क न लगाने पर लोगों पर जुर्माना करेगी। वही लगातार नियमों की अवहेलना करने पर लोगों को शासकीय हासे स्कूल नंबर एक के मैदान में खुली जेल भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें