पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनदेखी:चंबल राजघाट पर जेसीबी मशीनों से खोदा जा रहा रेत, नहीं हो रही कार्रवाई

मुरैना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शुक्रवार को राजघाट के पुराने पुल के नीचे मशीनों से रेत खोदा गया, लेकिन नहीं की गई कार्रवाई

चंबल के राजघाट से रेत का खनन व परिवहन बढ़ा है लेकिन वन विभाग से लेकर टास्क फोर्स के अफसर घाट पर चल रही जेसीबी, हाइड्रा व ट्रैक्टर-ट्रालियों को जब्त करने मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं। जबकि रेत के उत्खनन को रोकने के लिए आर्म्ड फोर्स की एक कंपनी डीएफओ के पास 2 साल से है। शुक्रवार की सुबह 10 बजे राजघाट से लौटे लोगों ने बताया कि चंबल के पुराने पुल क्षेत्र में जेसीबी मशीनों से रेत का खनन बड़े पैमाने पर किया जा रहा है।

चंबल के घाट पर गीले रेत को भरने के लिए मशीनों का उपयोग किया जा रहा है। 15 से 20 ट्रैक्टर-ट्राली भी बीते 2 घंटे में भरकर मुरैना के लिए रवाना हो चुके हैं। चश्मदीद लोगों का कहना है कि रेत कारोबारी इस समय चंबल के घाटों से रेत को इकट्ठा करके उसे अपने गांवों में डंप कर रहे हैं ताकि 20 जून के बारिश शुरू होते ही चंबल का जलस्तर बढ़ेगा और रेत की उपलब्धता खत्म हो जाएगी।

दो दिन पहले तक चंबल राजघाट पर जितना सूखा रेत मिला उसे बेचने के लिए मुरैना, बानमोर व ग्वालियर भेज दिया गया।वहीं शहर के फाटक बाहर इलाके में बड़ोखर के पास चंबल रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली प्रतिदिन मृगपुरा साइड से आकर खड़े  होते हैं। वहां रेत वाहनों की संख्या अधिक होने पर एक ट्राली रेत 2000 रुपए में मिल जाता है। बानमोर में नगर पंचायत कार्यालय के पास रेत वाहन खड़े हो रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें