पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निर्माण कार्य में लापरवाही:सात हायर सेकंडरी व हाईस्कूल भवन बनाने तीन साल पहले दिया पैसा, अब तक नहीं हुआ निर्माण

मुरैना5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्कूल शिक्षा विभाग की आयुक्त ने ली कड़ी आपत्ति, मांगा वरिष्ठ अधिकारियों से स्पष्टीकरण

काेविड संक्रमण पर नियंत्रण के साथ ही जिले में जुलाई से स्कूलों का नवीन सत्र शुरू होने की स्थिति बन रही है लेकिन हायर सेकंडरी व हाईस्कूलों की स्थिति देखिए कि यहां 16-17 में स्वीकृत 7 हायर सेकंडरी व हाईस्कूल भवनों का निर्माण अधूरा है। इसे लेकर सीपीआई ने पीआईयू के ईएनसी को तलब किया है। जानकारी के मुताबिक 2016-17 में स्वीकृत सात हायर सेकंडरी व हाईस्कूल भवन व दो बड़े छात्रावासों का निर्माण कार्य पीआईयू के ठेकेदारों ने 30 अप्रैल तक पूरा नहीं किया है। जबकि उक्त निर्माण कार्य मार्च में ही कंपलीट कर शिक्षा विभाग के सुपुर्द किए जाने थे।

स्कूल भवन नहीं बनने से जुलाई से शुरू होने वाले नवीन शिक्षा सत्र में छात्रों को मिडिल स्कूलों में बैठकर हाई व हायर सेकंडरी के कोर्स की पढ़ाई करना पड़ेगी। निर्माण में देरी को आयुक्त लोकशिक्षण ने पीआईयू के प्रमुख अभियंता को कड़ा आपत्ति पत्र भेजा है। स्कूलों के निर्माण में देरी का सटीक कारण बताने को कहा गया है। यहां बता दें कि लोक निर्माण विभाग की पीआईयू इकाई ने बानमोर, जीडी जैन स्कूल मुरैना, हाईस्कूल नरहेला, नगरा, थरा, कुथियाना, खेड़ाकलां के नवीन हायर सेकंडरी स्कूल भवनों का निर्माण कार्य अप्रैल तक पूरा नहीं किया है।

जबकि बीते वित्तीय वर्ष में मार्च 2021 तक स्कूल भवन बनाकर शिक्षा विभाग को सौंपे जाने थे। ताकि नवीन शिक्षा सत्र में उक्त चार स्थानों के छात्रों को अपने स्कूल भवन में बैठक पढ़ने का अवसर मिल पाता। जबकिस्थिति यह है स्कूल भवन बनाने के लिए राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान ने पीआईयू को दो साल पहले 1.75 करोड़ रुपए प्रति स्कूल के मान से राशि जारी की थी।

एक्सीलेंस स्कूल के छात्रावास भी अधर में
एक्सीलेंस स्कूल नं.1 मुरैना में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं काे आवासीय सुविधा देने के लिए मुरैना में 100-100 सीटर के दो छात्रावास अलग-अलग बनाए जाने हैं। छात्रावास बनाने के लिए प्रशासन ने जमीन भी आबंटित कर दी लेकिन ठेकेदार अभी तक काम को गति नहीं दे पाए हैं। दोनों छात्रावासों को बनाने के लिए तीन करोड़ 86 लाख 40 हजार रुपए के मान से राशि पीआईयू काे ट्रांसफर की जा चुकी है।

फिर भी अप्रैल तक एक्सीलेंस स्कूल परिसर के अंदर बनाए जाने वाले गर्ल्स हॉस्टल का निर्माण कार्य शुरू तक नहीं हुआ है। स्कूल के दोनाें छात्रावासों का निर्माण अधर में होने के कारण उत्कृष्ट स्कूल में अध्ययनरत छात्राओं को हॉस्टल में रहने की सुविधा नहीं मिल पा रही है। छात्रों को तो स्कूल प्रबंधन ने मॉडल स्कूल में रहने की सुविधा प्रदान कर दी लेकिन छात्राएं इस सुविधा से वंचित हैं।

जानिए...किस स्थिति में हैं निर्माणाधीन स्कूल भवन
कैलारस इलाके खेड़ाकलां में प्रशासन ने जमीन का विवाद सुलझाने में दाे साल गुजार दिए इसलिए वहां स्कूल भवन बनाने का काम शुरू नहीं हो सका। कमोवेश यही स्थिति बानमाेर के लिए स्वीकृत हायर सेकेंडरी स्कूल भवन की है। वहां भी जमीन कम होने के कारण स्कूल बनाने का काम देरी से शुरू हो पाया। नरहेला में पानी की समस्या के कारण स्कूल भवन का निर्माण अब तक पूरा नहीं हो सका है। नगरा का हाईस्कूल भवन कंपलीट किए जाने का दावा किया जा रहा है लेकिन दोनों पक्ष से उसे हैंडओवर की प्रक्रिया तक नहीं ला पा रहे । थरा अंबाह का हाईस्कूल भवन दो मंजिला बन चुका है उसकी छत डालना शेष है। मुरैना का जीडी जैन हायर सेकंडरी स्कूल भवन का निर्माण कार्य छत तक पूरा हुआ है। यही स्थिति अंबाह के कुथियाना में निर्माणाधीन हाईस्कूल की है।
काम पूरा करने के लिए लिखा पत्र
^पीआईयू के कार्यपालन यंत्री को पत्र लिखकर 7 हायर सेकंडरी व हाईस्कूलों के निर्माण को डेढ़ महीने की समयावधि में पूरा करने के लिए कहा गया है। क्योंकि जुलाई से नवीन शिक्षा सत्र शुरू होने की स्थिति बन रही है।
रवीन्द्र तोमर, एडीपीसी राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें