पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुरैना के बदमाशों ने किया फ्रॉ़ड:ऑनलाइन 2.5 लाख की ठगी, बनारस पुलिस ने तीन पकड़े

मुरैना17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बनारस साइबर क्राइम के एसआई सुनील यादव ने आरोपियों को पकड़कर उनसे ठगी के अपराध कुबूल करा लिए

पे-टीएम से ढाई लाख रुपए की ठगी के मामले की पड़ताल में जुटी बनारस की साइबर क्राइम टीम ने मुरैना के 3 ठगों को अपने कब्जे में लेकर उनसे 2.5 लाख रुपए खातों से निकालने के अपराध काे कुबूल कराया है। चूंकि ठगों के पास ठगी गई रकम उपलब्ध नहीं थी इसलिए यूपी पुलिस उन्हें नोटिस देकर छोड़ गई।

साइबर क्राइम को अंजाम दे रहे मुरैना के बदमाशों ने बनारस के रहने वाले सभाजीत पटेल के बैंक खाते से पे-टीएम फ्रॉड कर एक लाख रुपए पार कर दिए। साइबर क्राइम की विवेचना के लिए बनारस से आए सब इंसपेक्टर सुनील यादव ने शहर के प्रेमनगर से आरोपी रामकिशोर कुशवाह व ब्रजेश कुशवाह को व आरोपी जितेन्द्र कुशवाह को बागचीनी से गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने अपने बैंक खातों में ठगी के 2.5 लाख रुपए की रकम आना स्वीकार किया। आरोपियों ने साइबर क्राइम पुलिस को यह भी बताया कि एक चौथा व्यक्ति उनके पास आता रहा है और खातों में आई रकम को उनसे समेट कर ले गया है। इसलिए अभी वह ठगी के रुपयों को पुलिस को नहीं दे सकते हैं। जब उनके खातों में रुपया आएगा तब धीरे-धीरे वह उपलब्ध रकम साइबर क्राइम पुलिस को जब्त करा देंगे।

ठगी के तार मुरैना से जुड़े

देशभर में चल रही साइबर ठगी के तार मुरैना से जुड़े हैं। प्रेमनगर व बागचीनी के युवकों ने उत्तर प्रदेश के लोगों से पे-टीम के माध्यम से ठगी कर उनके खातों से रुपए निकाल लिए हैं। पुलिस ने जिल लोगोंं को जिन लोगों को यूपी पुलिस ने बनारस से मुरैना आकर दबोचा वे सभी साइबर कैफे चलाकर वारदात को अंजाम देते रहे हैं।

खबरें और भी हैं...