पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहाड़गढ़ ब्लॉक के चिन्नौनी चंबल का मामला:विवाह सहायता दिलाने पीसीओ पर 3400 रु घूस लेने का आरोप

मुरैना/पहाड़गढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अन्य ग्रामीण भी बोले-हमसे भी मांगे 5 हजार

प्रदेश सरकार की विवाह योजना के तहत 50 हजार की सहायता स्वीकृत कराने के नाम पर चिन्नौनी चंबल के पंचायत समन्वय अधिकारी (पीसीओ) इंद्रसिंह नेवल ने एक हितग्राही से 3400 रुपए की रिश्वत ले ली। मामला प्रकाश में तब आया जब रिश्वत लेते हुए वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। इस पर पीसीओ इंद्रसिंह ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि यह वीडियो पुराना है। लेकिन गांव में रहने वाले एक अन्य हितग्राही घमंडी पुत्र लालपति कुशवाह ने भी कहा कि मेरी बेटी का विवाह सहायता केस पीसीओ रोककर बैठा, वेरिफाई करने के नाम पर 5 हजार रुपए मांग रहा है।

चिन्नौनी चंबल में रहने वाले राजेंद्र गौड़ ने अपनी बेटी की शादी के बाद विवाह सहायता के लिए आवेदन किया। इस आवेदन को वेरिफाई करने के लिए जब पीसीओ इंद्रसिंह गांव में पहुंचा तो उसने 3800 रुपए मांगे। इसके एवज में राजेंद्र गौड़ ने अपनी जेब से 3400 रुपए निकाले और इंद्रसिंह के थम दिए। इसी दौरान किसी ग्रामीण ने रुपए लेते हुए वीडियो शूट कर लिया, जो मंगलवार को सोशल मीडिया में वायरल हो गया।

पीसीओ बोला-3900 हैं ना, ग्रामीण ने कहा-3400 हैं... फिर जेब में रख लिए

सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में पीसीओ इंद्रसिंह चिन्नौनी चंबल गांव में एक टेबल पर बैठा है। इसी दौरान हितग्राही के साथ मौजूद तीन-चार लोगों में से एक अपनी जेब से 500 व 200 के नोट निकालकर पीसीओ इंद्रसिंह के हाथ में थमा दिए। इस पर पीसीओ वीडियो में कहता नजर आ रहा है कि 3900 हैं न। इस पर ग्रामीण कहता है कि आप देख लो, गिन लो। 3400 रुपए गिनने के बाद पीसीओ रुपए अपनी जेब में रख लेता है।

सीईओ बोले- हमने पीसीओ से मांगा है जवाब

खुलेआम रुपए लेते वीडियो वायरल होने के बाद भी पहाड़गढ़ जनपद सीईओ जेपी प्रजापति का रुख नरम दिखा। वायरल वीडियो के संबंध में पूछने पर उन्होंने कहा कि हमने पीसीओ से पूछा है तो वह वीडियो पुराना बता रहा है। लेकिन सवाल यह है कि वीडियो पुराना भी है तब भी रिश्वत लेने के मामले की जांच व कार्रवाई क्यों नहीं की गई। हमने नोटिस देकर जवाब मांगा है।

खबरें और भी हैं...